class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बम की अफवाह से ट्रेन में खलबली

दिल्ली से चलकर फरीदाबाद की ओर आने वाली ट्रेन में बम की खबर ने शनिवार को रेलवे सुरक्षा में लगी आरपीएफ और जीआरपी के होश उड़ा दिए। इस सूचना के बाद ट्रेन की ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर जांच की गई। इसके बाद यहां रूकने वाली सभी ट्रेनों की जांच की गई। लेकिन किसी ट्रेन में कुछ नहीं मिला। बम की खबर महज अफवाह निकली।

गाजियाबाद से मथुरा को जाने वाली जीडीएम-2 ट्रेन में सोनीपत का सनी पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से सवार हुआ। उसी डिब्बे में सदर रेलवे स्टेशन से मथुरा का गौरव भी चढ़ गया। उसके पास कुछ समान था। समान रखने को लेकर डिब्बे में गौरव की एक अन्य युवक से कुछ कहा सुनी हो गई। इस पर उसने तल्खी दिखाते हुए कहा कि समान में बम है क्या कर लेगा। सब चुप हो गए लेकिन सनी ने जगरुकता दिखाते हुए इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस कंट्रोल रुम को दे दी। आनन-फानन पुलिस ने ट्रेन को हजरत निजमुद्दीन स्टेशन पर रोककर जांच शुरु कर दी। करीब चालीस मिनट तक चली जांच में पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा और ट्रेन वहां से रवाना कर दी। पुलिस ने गौरव को हजरत निजमुद्दीन में ही उतार लिया और सनी को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया। ट्रेन में बम होने की खबर फरीदाबाद पुलिस कंट्रोल रुम को करीब 5.45 बजे मिली। इस पर जीआरपी और आरपीएफ ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर मुस्तैद हो गई। जीआरपी के बम निरोधी दस्ते को स्टेशन पर तैनात कर दिया गया। जीआरपी एसएचओ बलबीर और आरपीएफ थाना प्रभारी अनूप सिंह थर्रान ने बताया कि ट्रेन में बम होने की सूचना दिल्ली कंट्रोल रुम से मिली थी। इस पर दिल्ली की ओर से आने वाली सभी ट्रेनों की जांच की जा रही है। जीडीएम-2 शटल की भी जांच की गई, पर उसमें कुछ नहीं था। सूचना के बाद से रेलवे स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी गई।
-------------------------
कब-कब मिली ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन को धमकी

- ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन को उड़ाने की सबसे पहली धमकी 2004 में मिली
- मई 2006 में तत्कालीन ओल्ड रेलवे स्टेशन सुप्रीटेंडेंट को आतंकी अलबदर का धमकी भरा पोस्टकार्ड मिला

- 29 मार्च 2008 को कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन पर ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन को उड़ाने का पत्र भेज गया । इसमें 13 अप्रैल 2008 को धमाकों की बात थी।


- बराड़ा रेलवे स्टेशन सुप्रीटेंडेंट प्रदीप कुमार को 26 मई 2008 को पंजाब के बबर खालसा आतंकी संगठन ने फरीदाबाद रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी।


- 30 जुलाई 2008 तूफान एक्सप्रेस में बम की सूचना
- 19 अगस्त 2008 को तमिलनाडु एक्सप्रेस में बम की अफवाह

- 6 अक्तूबर 2008 को फरीदाबाद के डीसी को धमकी भरा पोस्टकार्ड मिला। इसमें ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन सहित सात स्टेशनों को उड़ाने की थी।


- 11 अक्तूबर 2008 को गोहाना रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बम की अफवाह से ट्रेन में खलबली