class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दबिश देने मुरादाबाद गई पुलिस को ग्रामीणों ने घेरा

कुछ संदिग्धों को गांव से लेकर आ रही थी पुलिस पूछताछ के बाद बैरंग लौटी एक टीम डकैती व लूट के बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए यूपी में दबिश कार्यालय संवाददाता देहरादून बदमाशों की धरपकड़ के लिए मुरादाबाद गई पुलिस टीम को स्थानीय लोगों ने घेर लिया। इस दौरान मुरादाबाद की पुलिस भी साथ थी। पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया है। इन लोगों से पूछताछ के बाद दून पुलिस की एक टीम बैरंग लौट आई। पिछले दिनों शहर कोतवाली क्षेत्र में ठेकेदार के घर दिनदहाड़े डकैती और वसंत विहार में रिटायर्ड आईएफएस अफसर के मकान में लूट की वारदात हुई थी।

दोनों घटनाओं में बदमाश लूट के बाद घर में मौजूद लोगों को बंधक बनाकर फरार हो गए थे। इसके अलावा चोरी की भी ताबड़ तोबड़ घटनाएं शहर में हो रही हैं। अपराधियों को पकडना पुलिस के लिए चुनौती बन गया है। बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस और एसओजी की टीमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ, मुजफ्फरनगर, नोएडा, गाजियाबाद के साथ ही बुलंदशहर, मुरादाबाद और रामपुर आदि स्थानों पर भेजी गईं। मुरादाबाद गई एक टीम को गुरुवार सूचना मिली थी कि लूट और चोरी की घटनाओं में शामिल गिरोह के कुछ सदस्य अलीमिलख गांव में हैं। पुलिस ने रणनीति बनाकर स्थानीय पुलिस को साथ लिया और गांव में दबिश दी। जैसे ही कुछ संदिग्धों को पकड़ने की कार्रवाई शुरू की। इसी बीच गांव में यह खबर फैल गई कि बाहर से आए लोग गांव के कुछ युवकों को पकने अपने साथ ले गए हैं। ग्रामीणों ने पीछा कर पुलिस को कुछ ही दूरी पर घेर लिया। पहले तो पुलिस ग्रामीणों को समझाती रही, लेकिन जब विरोध बढ़ने लगा तो पुलिस ने भी सख्ती दिखाई।

बामुश्किल वहां से कुछ संदिग्धों को ले आई। इन लोगों से स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर पूछताछ की गई। फिलहाल मुरादाबाद गई एक टीम देहरादून बैरंग लौट आई है। पुलिस को उम्मीद है कि शीघ्र ही कुछ बदमाश गिरफ्त में होंगे। उधर, गिरोह के कुछ सदस्यों की लोकेशन दिल्ली से लगते नोएडा, गाजियाबाद में मिली है। एक टीम वहां पर दबिश दे रही है। संभवतया कुछ दिन में पुलिस को सफलता हाथ लग सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दबिश देने मुरादाबाद गई पुलिस को ग्रामीणों ने घेरा