class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिश्वत लेते गिरफ्तार बैंक शाखा प्रबंधक

पंजाब नेशनल बैंक की जपला शाखा के मैनेजर जी विश्वनाथन को गुरुवार की सुबह लगभग सात बजे सीबीआई की टीम ने दो हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोच लिया। सीबीआई टीम उन्हें अपने साथ रांची लेती गई। इधर शाखा में नए मैनेजर को प्रभार सौंप दिया गया है।

सीबीआई की टीम बैंक मैनेजर के रांची स्थित आवास पर भी गहन तलाशी ले रही है। देर शाम तक तलाशी जारी थी। सूत्रों के अनुसार अभी तक बैंक मैनेजर के आवास से एलआईसी में काफी राशि निवेश करने संबंधी कागजात के अलावा कई बैंक एकाउंट मिले हैं। बैंक मैनेजर द्वारा रांची में बनाए गए घर की कीमत भी एक करोड़ आंकी जा रही है। जानकारी के मुताबिक जपला बाजार निवासी फिरोज आलम का पीएनबी की जपला शाखा में सीसी एकाउंट संख्या 66 है। वह अपने एकाउंट नवीकरण के लिए पिछले कई माह से बैंक मैनेजर की खातिरदारी में लगा था। मैनेजर ने इस कार्य के लिए उससे तीन हजार रुपए रिश्वत मांगी थी। अंत में दो हजार रुपए में मामला तय हुआ। राशि देने की तिथि आज ही तय थी। फिरोज आलम ने पूरे मामले की जानकारी सीबीआई के पशुपालन कोषांग सह भ्रष्टाचार निरोधक शाखा के एसपी आरसी चौधरी को दी।

 चौधरी ने इस मामले की गुप्त रुप से जांच कराई और मामला सही पाया। तब उन्होंने एक टीम गठित कर बैंक मैनेजर को दबोचने की रणनीति तैयार की। बुधवार की रात सीबीआई की टीम रांची से जपला के लिए प्रस्थान कर गई। गुरुवार को इंस्पेक्टर एके झा के नेतृत्व में आठ सदस्यीय टीम बैंक मैनेजर के आवास के आसपास टोह में लगी थी। श्री आलम ने दो हजार रुपए मैनेजर के पास पहुंचकर उन्हें दिए। इसी दौरान सीबीआई की टीम ने बैंक मैनेजर को रंगे हाथ दबोच लिया। दस्ते ने मैनेजर की गिरफ्तारी की सूचना पीएनबी के मुख्य प्रबंधक एनके सिंह को दी। श्री सिंह की पहल पर उक्त शाखा का प्रभार समीर सिन्हा को दिलाया गया।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रिश्वत लेते गिरफ्तार बैंक शाखा प्रबंधक