class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेपाल से लेकर भारत के राज्यों पर थी नजर

कुतुब मीनार के समीप गुरुवार को स्पेशल सेल के हत्थे चढ़ा लश्कर कमांडर मोहम्मद उमर मदनी उर्फ अब्दुल्ला उर्फ अकबर अबतक भारत व नेपाल के करीब तीस युवकों को लश्कर कैंप में ट्रेनिंग दिलवा चुका है। ट्रेनिंग लेने वालों में मुंबई ट्रेन ब्लास्ट का आरोपी भी है शामिल। लश्कर के इस कमांडर के निशाने पर फिलहाल थे देश के चार मेट्रो शहर दिल्ली, मुंबई, कोलकाता व चेन्नई। इन चारों स्थानों पर उसे लश्कर के लिए पढ़े-लिखे व कम्प्यूटर तकनीकी में माहिर युवकों को लश्कर नेटवर्क के लिए जोड़ना था। इस बात का खुलासा स्पेशल सेल के ज्वाइंट सीपी पी.एन.अग्रवाल ने किया।


उन्होंने बताया कि पूछताछ में यह भी पता चला है कि मदनी भारत के छह अन्य राज्यों में भी नेटवर्क स्थापित करने में जुटा था। वह समुद्री मार्ग से पूरी तरह परिचित युवकों को लश्कर से जोड़ने में भी जुटा था। इसके अलावा उसे नेपाल के जंगलों में मदरसा की आड़ में लश्कर के लिए ट्रेनिंग कैंप स्थापित करना था। इन सब कामों के लिए उसे विदेशी करेंसी भी मुहैया कराई जाती थी। उसने ट्रेनिंग ले चुके आतंकियों को भारत में लॉंच कर उन्हें फंडिंग की जिम्मेदारी भी ले रखी थी। इसके लिए उसने पाकिस्तानी मूल के लश्कर आतंकी सैफुला के साथ मिलकर फर्जी नाम-पते के आधार पर कई बैंक एकाउंट भी खोल रखे थे। वह नकली नोट के कारोबार का भी माहिर खिलाड़ी है।
मूल रुप से बिहार के मधुबनी जिले के निवासी मदनी ने उत्तर प्रदेश स्थित वाराणसी रेवड़ी तालाब में मौलवियात किया था। वह हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, अरबी, बांग्ला व नेपाली भाषा का जानकार है। पुलिस के मुताबिक उसके पिता ने गत 95 में नेपाल में अपना मदरसा खोला। इसके बाद पूरा परिवार वहीं पर बस गया। मदनी ने भी वहां अपना एक मदरसा खोला। ज्वाइंट सीपी के मुताबिक इस दौरान उसकी मुलाकात लश्कर से जुड़े कुछ लोगों से हुई। उसने गत सन-97 में पाकिस्तान जाकर लश्कर कैंप में ट्रेनिंग ली।

फिर उसने टूर एंड ट्रेवेल का काम शुरू किया जिसकी आड़ में वह लश्कर की तमाम जिम्मेदारियां निभाने लगा। उसका छोटा भाई हाफिज मोहम्मद जुबेर भी कतर में लश्कर के लिए काम कर रहा है। उसे एसीपी संजीव यादव की टीम ने केंद्रीय इंटेलीजेंस एजेंसी की सूचना पर आठ हजार यूएस डॉलर, 50 हजर नकली भारतीय नोट, 4067 नेपाली करेंसी, नेपाल की नागरिकता कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस व कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज के साथ गिरफ्तार किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेपाल से लेकर भारत के राज्यों पर थी नजर