class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुराने फिल्मों में कोई रूची नहीं है दर्शकों की

पुराने फिल्मों में कोई रूची नहीं है दर्शकों की

मल्टीप्लेक्स मालिकों और निर्माता-वितरकों के बीच का गतिरोध खत्म नहीं हो पाया है। मंगलवार को हुई बैठक में भी कोई नतीजा नहीं निकल पाया। मल्टीप्लेक्स मालिक अपनी जिद पर अड़े हुए हैं और निर्माता एवं वितरक लाभांश शेयरिंग में बदलाव चाहते हैं। निर्माताओं ने संकेत दिया है कि अगले कुछ दिनों में सहमति नहीं बनी तो वे बड़ी फिल्मों को सिंगल स्क्रीन में रिलीज करना आरंभ कर देंगे। साथ ही उन मल्टीप्लेक्स में भी फिल्में रिलीज करेंगे, जो एक से ज्यादा शहरों में नहीं हैं।

पिछले हफ्ते पुरानी फिल्में रिलीज हुई, लेकिन उन में दर्शकों ने विशेष रुचि नहीं दिखाई। पहले यह चलन था कि पुरानी फिल्में रियायती दर पर दोबारा लगती थीं तो दर्शक उन्हें देखते थे। शाहरुख खान की रब ने बना दी जोड़ी को भी दर्शक नहीं मिले। निश्चित ही दर्शक ताजा फिल्में देखना चाहते हैं। यही वजह है कि पुरानी फिल्मों से दर्शकों को सिनेमाघरों में लाने का प्रयोग विफल रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुराने फिल्मों में कोई रूची नहीं है दर्शकों की