class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बांग्लादेश

बांग्लादेश

एशियाई देशों में सबसे फिसड्डी टीम होने के बावजूद बड़े उलटफेर करने में माहिर। वर्ल्ड क्रिकेट में कम अनुभवी होने के बावजूद अगर टीम के सभी खिलाड़ी मिलकर 20 ओवर तक टिके रह जए तो किसी को भी मात दे सकते हैं। टीम में युवा और जोशीले खिलाड़ी हैं। कुछ खिलाड़ी वाकई बेहद टैलेंटेड हैं। बांग्लादेश को पहले दौर से आगे बढ़ने में शायद ही कोई दिक्कत हो।


टीम:- मो. अशरफुल (कप्तान), मशरफे मुरतजा (उप कप्तान), तमिम इकबाल, जुनैद सिद्दीकी, रकीबुल हसन, शकिब-उल-हसन, मुशफीकउर रहमान, नईम इस्लाम, अब्दुर्र रज्जाक, शहादत हसन, सईद रसेल, मो. महमूद उल्ला, रुबेल हसन, शम्सुर रहमान, मो. मिथुन

कोच- जैमी सिडंस

 

मजबूती:- युवा टीम में गजब का जोश और उत्साह है। सबसे बड़ी बात ये कि टीम गलतियों से सीखकर लगातार खुद में सुधार कर रही है। टीम का एनर्जी लेवल 20-20 फॉरमेट के पूरी तरह अनुकूल।

 

कमजोरी:- अनुभव की कमी। अंतरराष्ट्रीय स्तर का कोई बल्लेबाज और गेंदबाज नहीं। शुरुआत में विकेट गिरते ही टीम पटरी से उतरने लगती है। गेंदबाजी में भी वो बात नहीं।

 

ग्रुप ए:-  वर्ल्ड टी- 20 का ये सबसे आसान ग्रुप है। ग्रुप में भारत, बांग्लादेश के अलावा आयरलैंड की टीम है। ऐसे में अनुमान लगाना मुश्किल नहीं होना चाहिए कि ग्रुप की कौन सी दो टीमें सुपर-8 में जगह बना सकती हैं। भारत इस ग्रुप की सबसे दमदार टीम है। तो बांग्लादेश बेशक आयरलैंड की तुलना में बहुत आगे। अंदाजा तो यही है कि भारत और बांग्लादेश को दूसरे दौर में पहुंचने में दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बांग्लादेश