class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीदरलैंड

नीदरलैंड

ये सोचकर कोई भी हैरान हो सकता है कि नीदरलैंड में क्रिकेट की जड़ें खासी पुरानी हैं। 1860 में क्रिकेट को बड़े खेल का दर्जा हासिल था। 1883 में यहां रॉयल डच क्रिकेट एसोसिएशन की स्थापना हुई। नीदरलैंड 1966 से आईसीसी का एसोसिएट मेम्बर है। लेकिन वो कभी क्रिकेट की मुख्य धारा में नहीं रहा। इस बार क्वालिफाइंग टूर्नामेंट वो आयरलैंड के साथ संयुक्त रूप से विजेता रहा।

 

टीम:-  जेरौं स्मिथ (कप्तान),  पीटर बॉटेन, मुदस्सर बुखारी, टॉम-डे-ग्रॉथ, मॉटिट्स जॉन्कमैन, एल्क्सी कारवेज, डार्क नेन्स, रूड निजमैन, डेरेन रिकर्स, एडजर सिफर्ली, पीटर सेलर, इरिक स्वाकिजिएकी, रेऑन-टेन-डिसकॉट, डेन-वान-बुंगे, बास ज्यूडेटेंट

कोच- जेरौं स्मिथ 

 

मजबूती:- नई टीम होने के कारण मजबूती जैसी कोई बात फिलहाल टीम में दिखती नहीं। बड़े  दिग्गजों के सामने टिके रहना यूं भी खासा मुश्किल होगा।

 

कमजोरी:- बड़ी टीमों के खिलाफ 20 ओवर तक मैदान टिके रहने में भी संदेह।

 

ग्रुप बी- पाकिस्तान, इंग्लैंड और नीदरलैंड के इस ग्रुप में पाकिस्तान और इंग्लैंड का सुपर-8 में पहुंचना तय माना जा रहा है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नीदरलैंड