class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेस्टइंडीज

वेस्टइंडीज

सत्तर के दशक में विश्व क्रिकेट में बादशाहत रखने वाली वेस्टइंडीज की टीम में अब वो बात नहीं रही। उसे मौजूदा क्रिकेट में खुद को बनाये रखने के लिए ही कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है। पिछले वर्ल्ड कप में विंडीज टीम सुपर-8 दौर में ही नहीं पहुंच पाई थी। न बैटिंग चल पाई थी और न ही बॉलिंग।

 

टीम:- क्रिस गेल (कप्तान),  दिनेश रामदीन (उपकप्तान), ऐड्रे फ्लेचर, रामनरेश सरवन, शिवनारायण चंद्रपाल, किरॉन पोलर्ड, ड्वेन ब्रावो, डेरेन सैमी, फिडेल एडवर्ड्स, लियॉन बेकर, सुलेमान बेन, जेरोम टेलर, लेंडल सिमंस, जेवियर मार्शल, देव बनार्ड। कोच- जॉन डायसन

मजबूती:- टीम में शामिल गेंदबाज और बल्लेबाज अच्छे फार्म में। क्रिस गेल विस्फोटक बल्लेबाज तो रामदीन, सरवन और चंद्रपाल भी कम नहीं। वहीं बॉलिंग में ब्रावो, एडवर्ड्स का जवाब नहीं।

कमजोरी:- कई खिलाड़ी तकनीकी तौर पर कमजोर। टीम कम अनुभवी। प्रदर्शन में स्थायित्व नहीं रहता। दबाव में बिखर भी जाते हैं।

ग्रुप सी:-  वर्ल्ड कप का सबसे कठिन ग्रुप। जिसमें तीनों टीमें किसी से कम नहीं। ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज और श्रीलंका जिस ग्रुप में साथ हों, अंदाजा लगा सकते हैं, वहां मुकाबला कितना मुश्किल होगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वेस्टइंडीज