class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीलंका

श्रीलंका

सन 1996 के वन-डे वर्ल्ड कप की चैंपियन श्रीलंका टीम आईसीसी रेटिंग में चौथे नंबर पर है। लेकिन लोगों का मानना है कि पिछले वर्ल्ड कप में श्रीलंकाई टीम जितनी मजबूत थी, वैसी इस बार नहीं। पिछले वर्ल्ड कप में अगर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल मैच छोड़ दें तो श्रीलंका का खेल सबसे चमकदार था।

टीम:- कप्तान- कुमार संगकारा, मुथैया मुरलीधरन (उपकप्तान), सनथ जयसूर्या, तिलकरत्ने दिलशान, जयवर्धने, चामारा सिल्वा, एंजेलो मैथ्यू, अजंता मेंडिस, कुलशेखरा, तुसारा मिरांडो,  मलिंगा, तिलकरत्ने, महरूफ, जेहन मुबारक, इंडिका डी सरम। कोच- ट्रेवर बेलिस


मजबूती:- वनडे मैचों में भी 20-20 की तरह बल्लेबाजी करने वाली टीम। मजबूत बैटिंग लाइनअप। मिडिल  ऑर्डर खासा मजबूत। जयसूर्या, जयवर्धने और संगकारा की तिकड़ी किसी भी तरह के गेंदबाजी आक्रमण के लिए बड़ी समस्या, तो लसित मलिंगा और मुरलीधरन की गेंदें आमतौर पर बल्लेबाजों के लिए पहेली बन जाती हैं।


कमजोरी:- टीम में शामिल अधिकतर खिलाड़ी अपने करियर के ढ़लान पर। उम्रदराज होने के चलते अब उसका असर फील्डिंग पर दिखने लगा है।

ग्रुप सी:-  वर्ल्ड कप का सबसे कठिन ग्रुप। जिसमें तीनों टीमें किसी से कम नहीं। ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज और श्रीलंका जिस ग्रुप में साथ हों, अंदाजा लगा सकते हैं, वहां मुकाबला कितना मुश्किल होगा।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्रीलंका