class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लगून क्लब में एंजिल्स थेरेपी वर्कशॉप

हम जब कभी दुख में होते हैं तो हम महसूस करते हैं कि कोई शक्ति है जो हमें संदेश दे रही है। सपनों के माध्यम से, अंदर की आवाज के माध्यम से या फिर पूर्वाभास के माध्यम से हमारी रक्षा करने वाली शक्ति हमें संदेश देती है। प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर हमारे साथ कुछ सकारात्मक शक्ति हमेशा होती है।

उन शक्तिओं को एंजिल्स कहती हैं रेकी मास्टर तमन्ना। मुंबई रेकी मास्टर और एंजिल्स थेरेपी विशेषज्ञ तमन्ना एंबीयंस मॉल के पीछे स्थित लगून क्लब में अगले शनिवार और रविवार को लोगों को एंजिल्स थेरेपी बताएंगी। तमन्ना ने कई फिल्मी सितारों को भी एंजिल्स थेरेपी दी है। इस पर इन्होंने कई वर्कशॉप किया है। 12 वर्ष की उम्र में रेकी मास्टर बनने वाली तमन्ना बताती हैं कि दुख, चिंता, डर और हर नकारात्मक स्थितियों में हमारे आस-पास के अच्छी एंजिल्स हमारी मदद कर सकते हैं।

मगर बगैर संदेश वे हमारी स्थिति में दखल अंदाजी नहीं करते। हम ध्यान के माध्यम से उनसे संपर्क कर सकते हैं। वे हमें सपनों, पूर्वाभास और अंदर की आवाज के रूप में हमें संदेश जरूर देते हैं। एंजिल्स थेरेपी से हम अपने मददगार एंजिल्स के करीब पहुंचते हैं और अपना संदेश उन्हें पहुंचाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लगून क्लब में एंजिल्स थेरेपी वर्कशॉप