class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक के खिलाफ मैच सर्वश्रेष्ठ में से एक: धोनी

पाक के खिलाफ मैच सर्वश्रेष्ठ में से एक: धोनी

टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टी-20 विश्व कप से पहले पाकिस्तान के खिलाफ अभ्यास मैच को अब तक के टीम के खेले गये सर्वश्रेष्ठ मुकाबलों में से एक करार किया, हालांकि उन्होंने स्वीकार किया कि भविष्य में इसको दोहराना मुश्किल होगा।

पाकिस्तान को ओवल में बीती रात नौ विकेट से परास्त करने के बाद धोनी ने कहा, यह सर्वश्रेष्ठ मैचों में से एक था, लेकिन भविष्य में इसको दोहराना कठिन होगा ।  पाकिस्तान के 159 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (80) और गौतम गंभीर (नाबाद 52) अकेले दम पर टीम को जीत के करीब ले गये और दोनों ने पहले विकेट के लिये 140 रन की भागीदारी निभायी।
 

धोनी ने हालांकि यह नहीं बताया कि वीरेंद्र सहवाग के कंधे की चोट से उबरने के बाद भी रोहित ही पारी का आगाज करेंगे या नहीं। उन्होंने कहा, चोटों के बारे में कुछ भी कहना मुश्किल है । मैं इस बारे में फिलहाल कोई कयास नहीं लगाना चाहता । जहीर खान की उपस्थिति के बारे में हालांकि धोनी ने कहा कि

यह बायें हाथ का गेंदबाज शुक्रवार को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले शुरुआती मैच में निश्चित रूप से नहीं खेल पायेगा । वह आयरलैंड के खिलाफ 10 जून को होने वाले लीग के अंतिम मैच से भी बाहर रह सकता है ।

धोनी ने कहा, जहीर ने गेंदबाजी करना शुरू कर दिया है। संकेत उत्साहवर्धक हैं, लेकिन हम कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहते । मुंबई के खिलाड़ी रोहित को सलामी बल्लेबाज के रूप में उतारने के बारे में धोनी ने कहा कि वह पहली पसंद थे । उन्होंने कहा, मैंने अभ्यास सत्र के दौरान उससे चर्चा की थी और उसने

इस पर उत्साह से प्रतिक्रिया दी थी । वीरू के चोटिल होने के बाद वह हमारे लिये सर्वश्रेष्ठ विकल्प था । न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले अभ्यास मैच में मैंने सोचा कि मैं पारी का आगाज करूंगा । लेकिन फिर युवी भी अनफिट था, इसलिये मैंने सोचा कि मैं तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करूंगा।

धोनी ने कहा, रोहित इसके लिये बिलकुल उचित लगा, जो सचमुच पारी का आगाज कर सकता है । उसके पास गेंदबाजों के खिलाफ तेजी से रन बनाने के लिये काफी समय रहता है । इससे मुझे फैसला लेने में मदद मिली । अब उसने शानदार प्रदर्शन किया है । उम्मीद है कि वह पूरे टूर्नामेंट में रन बनाता रहे ।

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि ईशांत को मध्य ओवर में गेंदबाजी करनी चाहिए । वह शुरू और अंत में एक ओवर कर सकता है, लेकिन मध्य ओवरों में वह बेहतर है ।

धोनी को जीत के बावजूद टीम के मैदानी प्रदर्शन में खामियां नजर आयी । उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता कि हमने अंतिम दो ओवर में अच्छी गेंदबाजी की। हम प्रयोग नहीं कर रहे थे, हम यार्कर डालने की कोशिश कर रहे थे और यह अच्छा नहीं है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक के खिलाफ मैच सर्वश्रेष्ठ में से एक: धोनी