class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिवालिएपन की गाड़ी

जनरल मोटर्स (जीएम) का दिवालिया हो जना शायद अमेरिकी इतिहास में एक बड़े मोड़ की तरह देखा जएगा। जीएम की सफलता बीसवीं शताब्दी में अमेरिका की तरक्की और शक्ति से जुड़ी थी। जीएम अमेरिकी समाज का एक अभिन्न हिस्सा था और उसका प्रतीक भी। इसलिए भी इसे डूबने देने के लिए अमेरिकी सरकार तैयार नहीं है और उसकी साठ प्रतिशत मिल्कियत हासिल करके उसे फिर से पटरी पर लाने में जुटी है। जीएम की समस्या यह है कि अगर उसे सफल होना है तो उसे पूरी तरह बदलना होगा और उसका मुकाबला उन प्रतिस्पर्धियों से है जो उसके दिवालिएपन से ज्यादा मजबूत हो गए हैं। जीएम अपने शुरुआती दिनों में जिन वजहों से असाधारण रूप से सफल हुई, उन्हीं वजहों से वह बाद में असफल भी हुई, क्योंकि जो तौर-तरीके बीसवीं शताब्दी की शुरुआत में क्रांतिकारी और प्रगतिशील थे, वे ही पचास-साठ साल बाद बोझ बन गए। जपानी कार निर्माताओं ने अमेरिकी प्रतिस्पर्धियों को इसलिए ही नहीं हराया कि उनकी कारें बेहतर टेक्नोलॉजी और कम ईंधन की खपत वाली थीं, इसकी वजह यह भी थी कि जपानी प्रबंधन की एक नई शली लाए थे, जो ज्यादा कार्यकुशल और कम खर्चीली थी। अमेरिकी उद्योगों के प्रबंध में इतना फैलाव था कि उसमें तुरंत निर्णय और उन पर अमल संभव नहीं था। इसके अलावा प्रबंधन और मजदूर नए जमाने के हिसाब से बदलने को भी तैयार नहीं हुए और जीएम जसी कंपनियों का मुनाफा घटता गया। इसलिए कई विशेषज्ञ मानते हैं कि दिवालिया घोषित होने और सरकारी सहायता मिलने से जीएम का फिर सफल होना मुश्किल है, क्योंकि सरकारी सहायता ने उसे बाजर की कठोर वास्तविकताओं से फिर दूर कर दिया है। अमेरिकी वाहन निर्माण क्षेत्र पिछले लंबे समय से मुश्किल हालात में बसर कर रहा है और उसे रासते पर लाने के निजी और सरकारी उपाय अक्सर बेकार साबित हुए हैं। लेकिन अमेरिका वह देश है, जिसमें कार का आविष्कार हुआ और जिसने कार को आधुनिक सयता का एक अनिवार्य हिस्सा बनाया। अमेरिकी वाहन उद्योग को बचाने के प्रयासों के पीछे अमेरिकी संस्कृति के वर्चस्व का सवाल भी है। लेकिन औद्योगिक संस्कृति में पहले जपान और दक्षिण कोरिया ने कुछ नए रास्ते खोजे और अब भारत और चीन अपना योगदान दे रहे हैं। अमेरिका अगर कुछ सबक इनसे सीखे तो ही इक्कीसवीं शताब्दी की दुनिया में वह सफल हो पाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिवालिएपन की गाड़ी