class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जायजा लेने हॉलब्रुक पहुंचेंगे पाकिस्तान

जायजा लेने हॉलब्रुक पहुंचेंगे पाकिस्तान

पाकिस्तान और अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत रिचर्ड हॉलब्रुक पश्चिमोत्तर पाकिस्तान के स्वात घाटी में तालिबान आतंकवादियों के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के कारण विस्थापित हुए लाखों नागरिकों की स्थिति का जायज़ा लेने के लिए बुधवार को पाकिस्तान पहुंचेंगे। वह पांच जून तक पाकिस्तान में रहेंगे।


अमेरिका के विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट वुड ने कहा कि पाकिस्तान के सैन्य कार्रवाई वाले क्षेत्रों में स्थिति काफी गंभीर है, जिसे लेकर हम काफी चिंतित हैं। राष्ट्रपति बराक ओबामा और विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने इस बारे में बयान भी दिए हैं। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान ने तालिबान आतंकवादियों के खिलाफ अभियान छेड़ने का जो कदम उठाया है वह सामजिक रूप से बहुत महत्वपूर्ण है। पाकिस्तान सरकार अपनी क्षमता के अनुसार शरणार्थियों को राहत और मदद प्रदान करने के लिए काफी कदम उठा रही है। इसके साथ ही अमेरिकी सरकार शरणार्थियों की मदद के लिए पाकिस्तान को हर संभव मदद मुहैया करा रही है।


वुड ने कहा है कि अमेरिका पाकिस्तान को किस प्रकार से और अधिक मदद कर सकता है, इसे लेकर हम वहां की सरकार के साथ लगातार संपर्क में हैं और हम ऐसा भविष्य में भी करते रहेंगे। पाकिस्तान में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई के कारण विस्थापित हुए लोगों के लिए स्थिति बहुत कठिन और चिंताजनक हो गई है। इस विपरीत परिस्थिति में अमेरिका पाकिस्तान के लोगों के साथ लगातार खड़ा रहेगा और उन्हें हर संभव मदद मुहैया कराएगा।


उन्होंने कहा है कि ओबामा और विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के अनुरोध पर हॉलब्रुक पाकिस्तान की यात्रा पर जा रहे हैं। हालब्रुक पाकिस्तान में अपनी यात्रा के दौरान सैन्य कार्रवाई के कारण विस्थापित हुए लोगों के लिए बनाए गए राहत शिविरों का जायजा लेने के साथ-साथ अभियान वाले क्षेत्रों का नजदीकी से दौरा करेंगे। जिससे यह पता चल जाएगा कि प्रभावित नागरिकों के लिए अमरीका किस प्रकार और बेहतर ढंग से मदद उपलब्ध करा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जायजा लेने हॉलब्रुक पहुंचेंगे पाकिस्तान