class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘बांग्लादेश में 1995 से सक्रिय है दाऊद का नेटवर्क’

‘बांग्लादेश में 1995 से सक्रिय है दाऊद का नेटवर्क’

अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम ने अपने आतंकवादी नेटवर्क की नींव बांग्लादेश में वर्ष 1995 में रखी थी और इसके बाद वह 2000 से इसे विस्तार देने में लगा रहा। ढाका पुलिस आयुक्त शाहिदुल हक ने यह स्वीकार किया।

ढाका शहर के पुलिस आयुक्त एकेएम शाहिदुल हक ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा कि दाऊद के साथी अब्दुर रऊफ दाऊद मर्चेंट को पूर्वी बांग्लादेश में ब्राह्मणबरिया के निकट एक गांव से गिरफ्तार किया गया। वह यहां अंडरवर्ल्ड सरगना के प्रति वफादार एक आतंकवादी गिरोह के गठन के मकसद से आया था।

मर्चेंट की गिरफ्तारी के बाद से बांग्लादेशी अधिकारियों को कई जानकारियां हाथ लगी हैं। मर्चेंट को भारतीय संगीत कंपनी ‘टी-सीरीज’ के मालिक गुलशन कुमार की हत्या के मामले में दोषी सिद्ध किया जा चुका है।

स्थानीय समाचार पत्र ‘न्यू एज’ ने गुप्तचर शाखा के अधिकारियों के हवाले से बुधवार को खबर दी कि मर्चेंट सबसे पहले 1995 में स्थानीय अंडरवल्र्ड और प्रभावशाली लोगों से संपर्क साधने से मकसद से बांग्लादेश पहुंचा था। मर्चेंट के साथ ही उसके साथी जाहिद शेख और कमाल मियां की भी गिरफ्तारी हुई।

मर्चेंट ने पूछताछ में कहा, ‘‘जाहिद यहां पिछले आठ वर्षों से दाऊद और छोटा शकील के आतंकवादी नेटवर्क को संगठित करने के लिए रह रहा था।’’ अखबार की रिपोर्ट में कहा गया है कि बांग्लादेश के कुछ कारोबारियों ने भी दाऊद के नेटवर्क की मदद की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘बांग्लादेश में 1995 से सक्रिय है दाऊद का नेटवर्क’