class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैश्विक मंदी से बढ़ रही है हिंसा: अध्ययन

वैश्विक मंदी से बढ़ रही है हिंसा: अध्ययन

वैश्विक आर्थिक मंदी से प्रभावित देशों में हिंसा और अस्थिरता और बढ़ गई है। एक अध्ययन के अनुसार विश्व के सबसे स्थिर एवं शांत देशों की सूची में न्यूजीलैंड को प्रथम तथा इराक को अंतिम स्थान दिया गया है।

विश्व भर में शांति की स्थिति पर नजर रखने वाली संस्था ग्लोबल पीस इंडेक्स द्वारा जारी 144 देशों की इस सूची में ऑस्ट्रिया पांचवें, जापान सातवें, कनाडा आठवें, अमरीका 83वें, चीन 74वें, रूस 136वें स्थान पर है। संस्था ने 23 मानकों के आधार पर इन देशों की सूची तैयार की है, जिसमें राजनीतिक स्थिरता, मानवाधिकार, हत्या दर, सैन्य खर्च, अंतरराष्ट्रीय संबंध तथा आतंकवादी खतरा शामिल है।

पिछले वर्ष शांत देशों की सूची में रहे पहले स्थान पर रहने वाला आइसलैंड इस वर्ष आर्थिक मंदी को लेकर किए गए हिंसात्मक प्रदर्शन के कारण चौथे स्थान पर पहुंच गया है। ग्लोबल पीस इंडेक्स के संस्थापक स्टीव किलेलिया ने बताया कि शांति और आर्थिक संपन्नता के बीच गहरा संबंध है। शांति किसी भी देश की आर्थिक प्रगति का प्रमुख प्रतीक है।

अध्ययन के मुताबिक वर्ष 2008 के प्रारम्भ में खाद्य पदार्थो के दामों में आई तेजी तथा तेल के मूल्यों में बढ़ोतरी की वजह से मंदी की मार और अधिक हुई, जिससे विश्व में हिंसा में बढ़ोतरी हुई। संगठन के अनुसार आर्थिक कमजोरी से कुछ  देशों में राजनीतिक अस्थिरता, विरोध प्रदर्शन तथा अपराध में वृद्धि हुई। इसके अलावा तेजी से बढ़ती बेरोजगारी, घरों के दामों में आई गिरावट तथा उनकी किस्त जमा न हो पाना, बचत जैसे मुद्दे कई देशों में नाराजगी के प्रमुख कारण बनते जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वैश्विक मंदी से बढ़ रही है हिंसा: अध्ययन