class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के निर्माण में नीतीश का देंगे साथ, सम्मान देने के लिए लालू का भी आभार

राजद के वरीय नेता व विधान पार्षद डॉ. भीम सिंह ने राजद छोड़ जदयू की सदस्यता ग्रहण कर ली। मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद उन्हें जदयू की सदस्यता प्रदान की। मुख्यमंत्री ने डॉ. सिंह का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि यह उनकी घर वापसी है। सन् 1994 में समता पार्टी के गठन के समय भीम सिंह संस्थापक सदस्यों में थे और पार्टी को खड़ा करने में उन्होंने काफी परिश्रम किया।

मुख्यमंत्री ने उनसे अपेक्षा की कि वे अब नए सिरे से बिहार के पुनर्निर्माण में सहयोग करेंगे। इसके पहले डा. सिंह ने विधान परिषद की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया। डॉ. भीम सिंह ने कहा कि वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के न्याय के साथ विकास यात्रा में सहभागी बनना चाहते थे। नीतीश कुमार सूबे के विकास में ईमानदारी से जुटे हैं और इससे कोई इंकार नहीं कर सकता। हालांकि उन्होंने लालू प्रसाद के प्रति भी आभार व्यक्त किया और कहा कि उन्होंने उन्हें पूरा सम्मान दिया और इसे वे व्यक्तिगत अहसान भी मानते हैं।

लेकिन पिछले कुछ दिनों से राजद हुल्लड़बादी व्यवस्था की शिकार हो गई थी। यही नहीं बेकार के बयानबाजी और निगेटिव विपक्ष की भूमिका में थी। इससे उन्हें बहुत परेशानी हो रही थी। बावजूद इसके वे लालू प्रसाद और नीतीश कुमार के  द्वन्द्व में फंसे थे। ऐसे में उनके लिए यह निर्णय कठिन था।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार खुद ही अब काफी सक्षम हैं बावजूद इसके वे पार्टी द्वारा सौंपी गई कोई भी जिम्मेवारी निभाएंगे। डॉ. सिंह के साथ प्रो. संतोष तांती, कमलेश प्रसाद चन्द्रवंशी, बिन्दा चद्रवंशी, सुदर्शन चन्द्रवंशी, दिनेश गुप्ता, सुनील चन्द्रवंशी, नंदकिशोर प्रसाद, मनोहर प्रसाद, राजकुमार शर्मा, हीरालाल दास व उमेश अकंटक भी जदयू में शामिल हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भीम सिंह का राजद को गुड बाय, जदयू में शामिल