class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क-नाले की दुर्गति से क्षुब्ध व्यवसायी सड़क पर उतरे

नाला और सड़क की दयनीय स्थिति से आक्रोशित मोतीझील, तिलक मैदान, इस्लामपुर व धर्मशाला चौक के व्यवसायी मंगलवार को सड़क पर उतर आये। उन्होंने जुलूस निकाल कर नगर निगम, विधायक और इरकॉन के विरोध में रोषपूर्ण नारेबाजी के साथ थाना गुमटी के समीप स्थित इरकॉन के कार्यालय में हंगामा किया। इससे काम कर रहे इरकॉन कर्मी स्थल पर ही औजर छोड़कर भाग निकले। इस दौरान व्यवसायियों ने बूमि के महाप्रबंधक गुणाशेखरन को बंधक बनाकर मोतीझील लाया और नाले की बदतर स्थिति का साक्षात दर्शन करवाया।

करीब ग्यारह बजे लोगों ने बांस-बल्ला से सड़क घेरने के बाद टायर जलाकर धर्मशाला चौक जम कर दिया। प्रदर्शनकारी सड़क पर ही गुणाशेखरन को घेर कर बैठ गए। उन्होंने बीस दिनों के भीतर नाला-सड़क बनाने का लिखित आश्वासन लेने के बाद उन्हें मुक्त किया। इससे करीब डेढ़ घंटा तक यातायात ठप रहा। जुलूस का नेतृत्व जदयू नेता पूर्व उपमेयर विवेक कुमार, अब्दुल मजीद व वार्ड पार्षद रविशंकर कर रहे थे।

पूर्व उपमेयर ने बीस दिनों के अंदर नाला नहीं बनने पर पूरे शहर को जम करने की चेतावनी दी। प्रदर्शन में शामिल व्यवसायी ?मो. सोहराब, दिलीप कुमार, अमित कुमार, संजय कुमार, सुरेश कुमार और भोला चौधरी सहित कई लोगों ने बताया कि चार साल से यहां के सैकड़ों व्यवसायी और मुहल्लेवासियों का इरकॉन के चलते जीना हराम हो चुका है। बरसात में घरों और दुकानों में नाला का गंदा पानी घुस जता है। नाला में डूबकर चार लोगों की मौत भी हो चुकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सड़क-नाले की दुर्गति से क्षुब्ध व्यवसायी सड़क पर उतरे