class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साहिबगंज में नवादा के स्वास्थ्यकर्मी की हत्या

अपराधियों ने मंगलवार को दिनदहाड़े कार्यालय में घुसकर सदर अस्पताल परिसर में स्थित रक्त अधिकोष में अनुबंध पर कार्यरत लैब  टेक्नीशियन की गोली मार कर हत्या कर दी और आराम से चलते बने। अस्पताल के कैदी वार्ड में तैनात सशस्त्र पुलिस बल मूक दर्शक बनकर देखता रह गया। बताया जता है कि वारदात के समय आरडीडी डॉ.अंजनी मिश्र सिविल कार्यालय में किसी मामले की जांच कर रहे थे।

लैब टेक्नीशियन प्रवीण कुमार रक्त अधिकोष भवन में स्थित अपने कार्यालय कक्ष में बैठकर पूर्वाह्न् करीब 11 बजे अपना काम कर रहा था। इसबीच हथियार से लैस तीन अपराधकर्मी कार्यालय में घुसे और उसकी कनपटी में नजदीक से गोली मार दी। गोली चलने की आवाज सुनकर सदर अस्पताल व सिविल सजर्न कार्यालय में कार्यरत कर्मचारी रक्त अधिकोष भवन पहुंचे तो खून से लथपथ प्रवीण अपनी कुर्सी से नीचे पड़े थे। कर्मचारियों की मदद से इन्हें तुरंत अस्पताल के ओटी में लाकर जंच चकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

उधर,दिनदहाड़े दफ्तर में घुसकर की गई हत्या को लेकर चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मियों का गुस्सा फूट पड़ा है। अपनी सुरक्षा व अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग को लेकर सदर अस्पताल समेत जिला मुख्यालय के तमाम स्वास्थ्य कर्मी बेमियादी हड़ताल पर चले गए। आंदोलित चिकित्सकों व स्वास्थ्यकर्मियों ने सदर अस्पताल में ताला जड़ मुख्य द्वार पर धरना शुरू कर दिया। इसके अलावा आंदोलित स्वास्थ्यकर्मियों ने हत्यारे की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग को लेकर व पुलिस प्रशासन के विरोध में शहर के पटेल चौक पर एनएच-80 को जम कर दिया ।

स्वास्थ्यकर्मियों का कहना है कि प्रवीण कुमार बिहार के नवादा जिले के वारसलीगंज के रहने वाले थे।  महज साल भर पहले ही वह यहां बतौर लैब टेक्नीशियन पदस्थापित हुए थे। वह अपनी पत्नी व चार साल के एक बच्चे के साथ अस्पताल परिसर में स्थित सरकारी क्वार्टर में रहते थे। उनकी किसी से कोई दुश्मनी या झगड़ा भी नहीं था। सूचना मिलने पर डीएसपी सीके मैत्रा व जिरवाबाड़ी ओपी प्रभारी महेश्वर प्रसाद रंजन मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू की।

एक वरीय पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि अबतक की छानबीन से पता चला है कि प्रवीण के एक परिचित युवक के साथ दो दिन पहले तीन युवकों का किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। प्रवीण ने अपने परिचित युवक का पक्ष लेते हुए उनयुवकों को डाट फटकार लगायी थी। समझ ज रहा है कि इसी बात पर उन युवकों ने प्रवीण को देख लेने की धमकी दी थी।  पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साहिबगंज में नवादा के स्वास्थ्यकर्मी की हत्या