class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंदिरापुरम वासियों ने किया विरोध प्रदर्शन, दी आंदोलन की चेतावनी

स्वर्ण जयंती पार्क और लोहिया पार्क में सोमवार सुबह मॉर्निग वॉक पर आए लोगों को उल्टे पांव वापस लौटना पड़ा। जहां लोग बिना किसी रोक-टोक के घूमते थे, वहीं एंट्री फीस मांगे जने पर लोग भौचक्के रह गए। सुबह के समय जेब में पैसा न होने की वजह से कई लोग मॉर्निंग वॉक नहीं कर सके। इसे लेकर स्थानीय निवासियों में गहरा रोष व्याप्त है।

कर्तव्य बोध सामाजिक संस्था के पदाधिकारी व इंदिरापुरम वासियों ने स्वर्ण जयंती पार्क के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही लोगों ने चेतावनी दी है कि यदि जीडीए ने प्रवेश शुल्क खत्म नहीं किया तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जएगा। हिंडन पार क्षेत्र के स्वर्ण जयंती पार्क और लोहिया पार्क में प्रति व्यक्ति 5 रुपये प्रवेश शुल्क सोमवार से लागू कर दिया गया है। सोमवार को मॉर्निंग वॉक पर गए लोगों को पार्क के बाहर खड़े गार्डो ने रोक लिया तथा 5 रुपये की पर्ची कटाने की बात कही। पार्क में जाने को लेकर गार्डो से कई लोगों की झड़प भी हो गई। सुबह-सुबह जेब में पैसा न होने की वजह से लोगों को बैरंग लौटना पड़ा। इसे लेकर इंदिरापुरम वासियों ने गहरी नाराजगी जताई है।

पार्क में प्रवेश शुल्क के विरोध में कर्तव्य बोध संस्था के पदाधिकारियों के साथ स्थानीय निवासी दोपहर 1.00 बजे स्वर्ण जयंती पार्क के गेट के बाहर इकट्ठा हुए तथा जमकर प्रदर्शन किया। लोगों ने जीडीए के खिलाफ नारेबाजी की। संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष शांत प्रकाश ने कहा कि बिल्डिंग बाइलॉज के अनुसार फ्लैट्स की रजिस्ट्री के समय पार्क व अन्य बुनियादी सुविधाओं के लिए शुल्क जमा कराया जता है। इसके अलावा रेजीडेंट्स प्रॉपर्टी टेक्स व डेवलपमेंट टैक्स दे रहे हैं। ऐसे में पार्को में प्रवेश शुल्क लगाकर जीडीए रेजीडेंट्स की जेब काट रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रवेश शुल्क नहीं हटाया गया तो इस अवैध उगाही खिलाफ बड़े स्तर पर विरोध किया जएगा। इस मौके पर टेकराम त्यागी, सुनील दत्त शर्मा, पंकज त्यागी आदि कई स्थानीय निवासी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पार्कों में जाने पर मांगी गई एंट्री फीस