class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव पुनर्बहाल

पूर्व मध्य रेलवे ने पिछले दिनों विभिन्न ट्रेनों के बंद किए गए ठहराव को पुनर्बहाल करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही पिछले आदेश को रद्द कर दिया गया है। पूर्व मध्य रेलवे के तहत 33 विभिन्न स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव बंद कर दिया गया था। हालांकि इस घोषणा के 48 घंटे बाद ही रेल प्रशासन ने अपने निर्णय पर फिर से विचार करने का संकेत दिया था। रेल प्रशासन के निर्णय के अनुसार अब सभी ट्रेनें पहले की ही तरह तमाम स्टेशनों पर रुकेंगी। हालांकि रेलवे सूत्रों का कहना है कि सोमवार की सुबह ही ठहराव वापस लेने का निर्णय लिया जा चुका था।
          उधर अपनी परेशानी ले रेल अधिकारी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मिले। मुख्यमंत्री ने रेल को हर संभव सहायता देने का भरोसा तो दिया लेकिन उन्होंने रेलवे के निर्णय पर नाराजगी भी प्रगट की। उन्होंने कहा कि रेलवे को ठहराव के अपने निर्णय को काफी सोच समझकर देना चाहिए और फिर निर्णय हो जाने के बाद उसे बदला नहीं जाना चाहिए। बदलना अपरिहार्य ही हो तो पहले उसकी समीक्षा होनी चाहिए। बेवजह ऐसे मामलों से परेशानी उत्पन्न होती है। उन्होंने ऐसी स्थिति उत्पन्न होने देने से परहेज करने की नसीहत भी अधिकारियों को दी। अलबत्ता उन्होंने रेलवे को हर तरह की मदद का भरोसा दिलाया।


    पूर्व मध्य रेलवे की परेशानी का कारण रेलवे बोर्ड का निर्णय हो गया जिसमें ट्रेनों के ठहराव को हरी झंडी नहीं मिली। पूर्व मध्य रेलवे के विभिन्न स्टेशनों पर कई ट्रेनों के ठहराव की घोषणा की गई थी। इसमें 48 ट्रेनों पर बोर्ड की हरी झंडी तो आई गई लेकिन 33 स्टेशनों पर मामला अटक गया।


      विभिन्न ट्रेनों के 33 स्टेशनों पर दिए गए ठहराव को रद्द करने के बाद भड़की हिंसा से परेशान रेल प्रशासन ने तत्काल निर्णय वापस लेने की घोषणा की। इन ट्रेनों में जनशताब्दी, श्रमजीवी, तूफान, कोसी एक्सप्रेस, सहरसा-अमृतसर, दानापुर-दरभंगा इंटरसिटी, पटना-डेहरी इंटरसिटी, हावड़ा-पटना जनशताब्दी, भागलपुर इंटरसिटी, जनता एक्सप्रेस कटिहार इंटरसिटी, हटिया एक्सप्रेस, डेहरी इंटरसिटी, वशाली एक्सप्रेस, यमुना एक्सप्रेस, शहीद एक्सप्रेस, रांची-वाराणसी, धनबाद-गया इंटरसिटी शामिल हैं। इन ट्रेनों के 33 विभिन्न स्टेशनों पर दिए गए ठहराव को रेल प्रशासन ने वापस ले लिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव पुनर्बहाल