class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सशक्त योजना

जीवन के किसी भी क्षेत्र में, चाहे वह करियर हो या कोई और फील्ड, अगर आपका तात्कालिक लक्ष्य ऐसा है कि उसे पा लेने पर आपको हार्दिक खुशी और संतोष मिलता है, तो इससे आप इतने प्रेरित हो जएंगे कि ये आपको अंतिम लक्ष्य प्राप्त करने में भी काफी मददगार साबित होगा। इसलिए जाहिर है आपको प्राथमिक लक्ष्य हमेशा अपनी मनपसंद का ही रखना चाहिए। लेकिन ये सब तभी संभव है, जब आपकी योजना मजबूत हो। अगर कोई पूछे कि जीवन में हासिल करने लायक गोल सैट करने के लिए खास गाइड लाइंस क्या हो सकती हैं, तो आप उसे ये बिंदु बता सकते हैं-

इस मामले में सबसे पहला कदम है आदर्श जीवन का विजन तैयार करना, जबकि हकीकत ये है कि ज्यादातर लोग इसकी तरफ कोई ध्यान ही नहीं देते। ऐसे लोगों की भीड़ का हिस्सा कतई न बनें। अच्छा तो ये हो कि आप क्या बनना चाहते हैं, क्या करना चाहते हैं, या क्या पाना चाहते हैं- ये सब लिखकर अपने पास रख लें। फिर विजन बोर्ड बनाइए। इसमें अपने कारोबार, सेहत और आकांक्षाओं से जुड़े गोल दर्ज करें। हर लक्ष्य का जो हिस्सा हासिल होता जए, उसे मार्क करके बोर्ड पर अगला हिस्सा प्रदर्शित करें।

दूसरा कदम है, अपनी पसंद का तात्कालिक गोल चुनना, जो आपमें मूल लक्ष्य की ओर आगे के कदम उठाने का जज्बा पैदा कर सके। इसका पता लगाने का तरीका बहुत आसान है। देखिए कि आपके मौजूदा जीवन और आदर्श स्थिति के बीच कितना फासला नजर आता है। इसे पाटने का अभ्यास करें। यही आपका तात्कालिक पसंदीदा गोल हो सकता है।

इसके बाद अपने विश्वसनीय दो सहयोगियों के साथ गंभीर विचार-विमर्श करके अपने तात्कालिक पसंदीदा गोल को हासिल करने के लिए उठाए जने वाले कदमों की लिस्ट तैयार करें। गोल की समय सीमा भी तय कीजिए।

और सबसे बड़ी बात है अपने लक्ष्य को अजिर्त करने के लिए कड़ा समय चक्र बनाकर उसका पालन करना। इस मामले में सुस्त न पड़ें, और अपने काम की निर्मम समीक्षा भी खुद ही करते रहें। अगर आपको लगे कि आप काफी समय नष्ट कर रहे हैं, तो समय चक्र में थोड़ा सुधार कर लें। आपको अपना लक्ष्य हासिल होकर रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सशक्त योजना