class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपनी फार्म को लेकर चिंतित नहीं हैं सहवाग

अपनी फार्म को लेकर चिंतित नहीं हैं सहवाग

टीम इंडिया के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने हाल में संपन्न इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2 क्रिकेट टूर्नामेंट की थकान का टी20 वर्ल्ड कप के मैचों के दौरान असर होने की संभावना से इंकार करते हुए कहा कि वह अपनी या टीम के धाकड बल्लेबाज गौतम गंभीर की फार्म को लेकर चिंतित नहीं हैं और दोनों ओपनर इस टूर्नामेंट का खिताब बरकरार रखने की पूरी कोशिश करेंगे।

सहवाग ने एक खेल वेबसाइट से कहा कि हम अपनी फार्म को लेकर चिंतित नहीं हैं। आईपीएल-2 के कुछ मैचों में हमने अच्छा स्कोर खड़ा किया। हम थके हुए नहीं हैं। हमें इस बात की खुशी है कि हम अपनी फार्म में लौट आए हैं और आईपीएल के बाद आत्मविश्वास से लबरेज हैं।

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के मुकाबले सीम और स्विंग के लिहाज से उपयुक्त इंग्लैंड की पिचों पर उनकी बल्लेबाजी के तरीकों में किसी तरह के बदलाव की जरुरत नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने करीब-करीब सभी देशों में क्रिकेट खेला है। मैंने इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में भी कई मैच खेले हैं और मैं वहां खेलने को आदी हो गया हूं। इसलिए मुङो वहां खेलने में कोई दिक्कत नहीं है।

इस बार भी आईपीएल के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का नेतृत्व करने वाले सहवाग का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय दिग्गज खिलाड़ियों से सजी टीम की कप्तानी करने में उन्हें किसी तरह की कठिनाई नहीं हुई क्योंकि टीम के सभी खिलाड़ी पूरी तरह पेशेवर हैं और हर हाल में जीत हासिल करना उनका एक ही लक्ष्य होता है।

उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों की वजह से मेरा काम आसान हो गया था। पूरी टीम पेशेवर खिलाड़ियों से भरी थी जो न सिर्फ इसे एक खेल की तरह ले रहे थे बल्कि सभी मैच जीतना ही उनका लक्ष्य था।

सहवाग ने इस बात से भी इंकार किया कि कप्तानी की वजह से उनके खेल पर असर पड़ा है और कहा कि उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम की आईपीएल के दोनों संस्करणों में सफल कप्तानी की है। उन्होंने कहा कि मैंने पिछले वर्ष भी दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी की थी और उस वक्त मैंने बढ़िया प्रदर्शन किया था। कप्तानी से मेरे खेल पर कभी असर नहीं पड़ा।

हालांकि आईपीएल 2 के सेमीफाइनल में डेक्कन चार्जर्स के हाथों पिटने वाली टीम के कप्तान सहवाग ने स्वीकार किया कि एडम गिलक्रिस्ट की विस्फोटक बल्लेबाजी की वजह से डेयरडेविल्स को टूर्नामेंट से बाहर हो जाना पडा। उन्होंने कहा कि टूर्नामेंट जीतने में कामयाब नहीं हो पाने के बावजूद आईपीएल 2 में उनकी टीम के लिए काफी अच्छा अनुभव रहा।

सहवाग ने कहा कि गिलक्रिस्ट ने वाकई बेहतरीन बल्लेबाजी की। हालांकि यह दुर्भाग्यपूर्ण रहा कि हम सेमीफाइनल नहीं जीत पाए। निश्चित तौर पर उस दिन किस्मत ने हमारा साथ नहीं दिया। फिर भी मैं इसे लेकर निराश नहीं हूं क्योंकि हमने 15 में से 10 मैच जीते जो खराब नहीं कहा जा सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अपनी फार्म को लेकर चिंतित नहीं हैं सहवाग