class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कम से कम गोल खाने पर होगा जोर

कम से कम गोल खाने पर होगा जोर

क्रिकेट की तरह न कोई शोर-शराबा और न ही मीडिया का कोई दखल। भोपाल में लगभग डेढ़ माह से जूनियर हॉकी टीम का कैम्प चल रहा था। विश्व कप की तैयारियों में लगी थी टीम। आज ही कैम्प खत्म हुआ। मंगलवार की रात टीम विश्व कप अभियान के लिए सिंगापुर रवाना भी हो जएगी।


कोच ए.के. बंसल दिल्ली में थे। उनसे विश्व कप के लिए टीम की तैयारियों के बारे में बात हुई। उन्हें पूरा विश्वास है कि टीम अच्छा करेगी। कहते हैं, ‘कोई रणनीति नहीं बनाई है। मैच दर मैच अच्छा खेल ऊपर जाना है। हां, इस बार टूर्नामेंट का फॉरमेट कुछ बदला हुआ है। पहली बार विश्व कप में 20 टीमें हिस्सा ले रही हैं। तीन फेज (लीग, सुपर लीग और नॉकआउट) में टूर्नामेंट खेला जएगा। उसी के अनुरूप प्लान भी बनाना होगा।’


पिछले लगभग दो साल से बंसल जूनियर टीम के कोच हैं। टीम लगातार अच्छा कर रही है। हैदराबाद में एशिया कप जीतने के अलावा कई अन्य टूर्नामेंट में भी टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया है। हां, कोच यह जरूर चाहते हैं कि टीम कम से कम गोल खाए। कहते हैं, ‘हमारे पास अच्छे ड्रैग फ्लिकर हैं। फॉरवर्ड लाइन भी हमारी अच्छी है। विपक्षी टीमों पर गोल तो हम कर लेंगे। जरूरी यह है कि हम कम से कम गोल खाएं। इसके लिए डिफेंस पर ज्यादा जोर देना होगा।’


20 टीमों को चार पूलों में बांटा गया है। भारत के पूल में न्यूजीलैंड, हॉलैंड, पोलैंड और सिंगापुर हैं। टफ पूल है। इस बात को कोच भी मानते हैं। कहते हैं, ‘अन्य पूल में दो-दो अच्छी टीमें हैं। हमारे पूल में सिंगापुर के अलावा सभी टीमें टफ हैं। न्यूजीलैंड और हॉलैंड तो टफ हैं ही। पोलैंड भी फंसा कर खेलने वाली टीम है। कुछ भी हो हमारा टारगेट है अच्छा खेलना और ऊपर जना।’


सीनियर टीम के खराब प्रदर्शन का दबाव तो जूनियर टीम पर नहीं होगा, पूछने पर बंसल कहते हैं, ‘नहीं ऐसा कुछ नहीं है। हम पूरी तैयारी के साथ ज रहे हैं। वसे भी एक टीम के प्रदर्शन का असर दूसरी टीम में पड़ने का कोई मतलब नहीं होता। हमारा काम है अपनी ओर से बेस्ट देना।’


विश्व कप सिंगापुर और जोहोर बाहरू में 7 से 21 जून तक खेला जएगा। भारत को पहला मैच 8 जून को सिंगापुर से खेलना है। इससे पहले भारतीय टीम जर्मनी और चिली की टीम के साथ प्रैक्टिस मैच भी खेलेगी।

भारत के लीग मैच
8 जून : सिंगापुर से, 9 जून : न्यूजीलैंड से, 11 जून : हॉलैंड से, 12 जून : पोलैंड से।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कम से कम गोल खाने पर होगा जोर