class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपने ही घर में हारे जगदानंद सिंह

रामगढ़ विधानसभा चुनाव में लगातार जीत का छक्का लगा चुके जगदानंद भले ही बक्सर लोस चुनाव जीत गए, लेकिन, इस चुनाव में जब रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती हुई तो पता चला उन्हें पराजय झेलनी पड़ी। रामगढ़ विस क्षेत्र में वे दूसर नंबर पर रहे। 1े बाद विधानसभा व लोकसभा चुनाव में यह पहली बार है, जब बसपा ने 1316 मतों के अंतर से जीत दर्ज की है। तकरीबन 56 हाार मत पाने वाले जगदानंद अपने घर में केवल आधा वोट पा सके। यहां जगदानंद को 28553 मत मिले। जबकि बसपा को 2वोट। यद्यपि कि बसपा का मत बढ़ा नहीं, लेकिन जगदानंद का वोट घटा जरूर।ड्ढr ड्ढr लोकसभा की पहली पारी में कड़े संघर्ष के बीच मात्र 2252 मतों से जीत दर्ज करने के बाद इस बात का मलाल जगदानंद को भी है।उधर, लोकसभा चुनाव में हार की हताशा के बावजूद बसपा कार्यकर्ता उत्साहित हैं। इसकी वजह भी है। अब तक के विस चुनाव में बसपा रामगढ़ में चार बार दूसर नंबर पर रही है। आगामी विस उपचुनाव को लेकर बसपा का हौसला परवान पर है। हालांकि रामगढ़ से जगदा बाबू के हारने के कारणों की चर्चा जोरों पर की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अपने ही घर में हारे जगदानंद सिंह