class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब एड्स के मरीजों को मिलेगा स्मार्ट कार्ड

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एड्स के 301 रोगी चिन्हित किए गए हैं । यहां 344 गर्भवती महिलाआें में भी एचआईवी पॉजिटिव पाया गया है । वर्ष 2002 से 2007 तक, जिले में कुल 2646 लोगों की जांच में 301 को एड्सग्रस्त पाया गया है। जिला अस्पताल में अब तक 344 गर्भवती महिलाआें में भी एचआईवी के लक्षण पाए गए हैं। नेशनल एड्स कंट्रोल आर्गेनाइजेशन देश भर के एड्स के ऐसे रोगियों को, जो एन्टी रिट्रोवायरल थैरेपी केन्द्र में अपना उपचार करा रहे हैं, को कंप्यूटराइ़ज्ड स्मार्ट कार्ड जारी करेगा। नाको की महानिदेशिक सुजाता राव ने बताया कि इसका उद्देश्य एड्स रोगियों की बढ़ती संख्या पर नजर रखना और उनके नियमित उपचार को सुनिश्चित करना है। इस स्मार्ट कार्ड में रोगी की सारी केस हिस्ट्री होगी। श्रीमती राव ने बताया कि स्मार्ट कार्ड के जरिए देश के सभी एन्टी रिट्रोवायरल थैरेपी केन्द्रों में एड्स रोगियों को नि:शुल्क उपचार और दवा मिल सकेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब एड्स के मरीजों को मिलेगा स्मार्ट कार्ड