class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीजिंग बायकॉट : बुश ने विकल्प खुला छोड़ा

बीजिंग ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश शिरकत करेंगे या नहीं, व्हाइट हाउस ने यह विकल्प खुला छोड़ दिया है। राष्ट्रपति का कहना है कि पिछले साल उन्होंने जरूर यह प्लान किया था कि वह बीजिंग जाएंगे, लेकिन फिलहाल वह निश्चित कुछ भी नहीं कह सकते। उन्होंने कहा कि वह खेल प्रेमी हैं और ओलंपिक में शामिल होने वाले अमेरिकी एथलीट्स की हौसलाअफााई जरूर करना चाहेंगे। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता डाना पेरिनो से जब यह पूछा गया कि क्या राष्ट्रपति बुश ओलंपिक उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे तो उन्होंने कहा, हमें इस यात्रा के बार में अभी तक कोई शिड्यूल उपलब्ध नहीं कराया गया है। जब प्रवक्ता से इस बार में अधिक खुर्दबीन की कोशिश की गई तो वह झुंझलाकर बोलीं, राष्ट्रपति अपने दौर में कभी भी कुछ भी परिवर्तन कर सकते हैं। डाना ने कहा कि राष्ट्रपति मानते हैं कि यह खिलाड़ियों के लिए अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका है। जहां तक चीन पर दबाव डालने का प्र्नश्न है, तो इसके लिए न सिर्फ तिब्बतियों बल्कि चीन में रह रहे अन्य लोगों की मदद के लिए ओलंपिक से पहले, इसके दौरान या इसके बाद कभी भी कोशिश की जा सकती है। गौरतलब है कि बुश पर, खासकर डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से बीजिंग न जाने का भारी दबाव है। सदन की स्पीकर नैंसी पिलोसी पहले ही राष्ट्रपति से यह मांग कर चुकी हैं। अब पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन की दौड़ में शामिल हिलेरी क्िलंटन ने भी सार्वजनिक रूप से यह मांग कर बुश को सांसत में डाल दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीजिंग बायकॉट : बुश ने विकल्प खुला छोड़ा