class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भटकते रहे परीक्षार्थी, नहीं मिली कोई सूचना

शिक्षक पिटाई मामले के बाद पूटा की त्वरित हड़ताल को देखते हुए मंगलवार को ही पटना विवि प्रशासन ने बुधवार की सभी परीक्षाओं को स्थगित करने का आदेश जारी कर दिया था पर इसकी सूचना अधिकांश छात्रों को नहीं मिल पायी थी। समाचार पत्रों के माध्यम से परीक्षा स्थगित होने की सूचना के बाद भी परीक्षार्थियों का तांता विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर सुबह 0 बजे से ही लगना शुरू हो गया। परीक्षार्थियों के मन में यह बात थी कि कहीं परीक्षा ले न लिया जाए।ड्ढr ड्ढr परीक्षार्थियों की भीड़ तो केंद्रों पर जुटनी शुरू हो गयी लेकिन वहां के मुख्य द्वार पर जड़े ताले को देखकर उनको पूरी बात समझ में नहीं आ रही थी। वहां पर उनको कोई भी कुछ बता पाने की स्थिति में नहीं था। सभी कर्मचारी कॉलेज प्रांगण में आराम फरमा रहे थे। मुख्य द्वार पर परीक्षा स्थगित होने संबंधी कोई सूचना नहीं चिपकाई गई थी। कुछ ऐसी ही स्थिति दूसरी पाली की परीक्षा में देखने को मिली। बुधवार को स्नातक, स्नातकोत्तर व 26 व्यावसायिक पाठय़क्रमों की परीक्षा होनेवाली थी। इस कारण छात्र-छात्राओं की संख्या कुछ अधिक ही देखी गयी।ड्ढr ड्ढr पटना कॉलेज केंद्र पर स्नातक की परीक्षा देने आयी स्वाति ने बताया कि सुबह साढ़े नौ बजे से खड़े हैं लेकिन हमलोगों को कुछ बताया नहीं जा रहा है। द्वितीय पाली की परीक्षा में भाग लेने आए रमेश ने बताया कि भीतर में कर्मचारी आराम फरमा रहे हैं लेकिन हमें वस्तुस्थिति बताने वाला कोई नहीं है। इस गर्मी में हमलोग गेट पर 12.30 बजे से खड़े हैं और दो बजे तक कोई सूचना नहीं है। सूचना लेने परीक्षार्थियों का तांता पटना विवि मुख्यालय में भी लगा रहा और वहां भी उन्हें पर्याप्त सूचना मिलने में काफी मशक्कत झेलनी पड़ी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भटकते रहे परीक्षार्थी, नहीं मिली कोई सूचना