class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूबे में 100 और आईटीआई खोले जाएंगे : मोदी

युवाओं को रोगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए जरूरी है कौशल विकास (स्किल डेवलपमेंट)। इसलिए स्किल डेवलपमेंट राज्य सरकार की प्राथमिकता सूची में दूसर स्थान पर है। ये बातें उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार कहीं। वे स्किल डेवलपमेंट के लिए कंफडरशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री और ब्रिटेन की कंपनी ए फोर ई के बीच हुए करार के मौके पर मौजूद लोगों को संबोधित कर रहे थे।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि सरकार ने गांवों के स्तर पर युवकों को ट्रेनिंग देने जा रही है, ताकि छोटी-मोटी तकनीकी जरूरतों को पूरा किया जा सके। इसके तहत ग्रामीण इांीनियरों को मोटर पंप, कृषि उपकरणों की मरम्मत, बिजली उपकरणों की मरम्मत की ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में 100 और आईटीआई खोले जाएंगे, ताकि युवाओं को औद्योगिक प्रशिक्षण दिया जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने एल एंड टी के साथ एक करार किया है, जिसके तहत हर महीने 300 युवाओं को ऑन जॉब ट्रेनिंग दी जाएगी। बाद में आठ महीने इन्हें इस कंपनी में काम करने का मौका भी मिलेगा। श्री मोदी ने बताया कि मारिशस सरकार ने 500 युवाओं को अपने यहां नौकरी देने की पेशकश की है। इस मौके पर ए फोर ई के कार्यपालक निदेशक राय नेवे ने कहा कि इस कार्यकम के तहत 5000 युवाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि ए फोर ई वोकेशनल ट्रेनिंग देने वाली विश्व की बहुत बड़ी कंपनी है। इस मौके पर सीआईआई के सत्यजीत कुमार सिंह ने कहा कि उनका संगठन गांवों में महिलाओं को मोबाइल रिपेयरिंग का प्रशिक्षण देने जा रही है। उन्होंने कहा कि सीआईआई राज्य के जरूरतों के अनुरूप लोगों को प्रशिक्षित करने की कोशिश कर रही है। इस मौके पर कर्नल (रि.) हरमीत सिंह सेठी, सिद्धार्थ पांडेय, शैवाल गुप्ता, के पी एस केसरी, संजीव चौधरी व राणा बनर्जी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सूबे में 100 और आईटीआई खोले जाएंगे : मोदी