class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुवैत में 90 भारतीय मजदूरों को वेतन नहीं

ुवैत की एक निर्माण कंपनी में काम करने वाले करीब 0 मजदूरों ने आरोप लगाया है कि पिछले सात महीने से उन्हें वेतन नहीं दिया गया है। कुवैत स्थित भारतीय दूतावास इस मामले को अदालत से बाहर सुलझाने का प्रयास कर रहा है। मजदूरों का आरोप है कि उनको एक वर्ष पूर्व काम पर नियुक्त किया गया था लेकिन पिछले सात महीने से उनको वेतन नहीं दिया गया है। कुवैत में भारत के राजदूत एम गणपति ने फोन पर बताया कि इस मामले की जानकारी दूतावास को पिछले साल अक्टूबर में दी गई थी। मजदूर इस मामले पर अदालत में भी गए हैं। लेकिन हम इस मामले को अदालत के बाहर सुलझाने के लिए दोनों पक्षों से बातचीत कर रहे हैं। स्थानीय मीडिया में आई खबरों के अनुसार मजदूरों के मकान मालिकों ने किराया नहीं दे पाने के कारण उनको बाहर करने की धमकी दी है। मजदूरों में से कुछ तो पिछले तीन दिनों से भूखे हैं। एक श्रमिक ने ‘अरब टाइम्स’ को बताया कि कंपनी ने उनके मकान का किराया देने से इंकार कर दिया है और इस समय उनकी सबसे बड़ी समस्या भोजन की है। भारतीय राजदूत ने कहा कि भोजन के लिए दूतावास ने श्रमिकों को कुछ धन दिया है। अधिकांश श्रमिक केरल, आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कुवैत में 90 भारतीय मजदूरों को वेतन नहीं