class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली पहुंची निफ्ट छात्रों की आवाज

निफ्ट छात्रों का एक प्रतिनिधिमंडल पार्लियामेंट्री स्टैंडिंग कमेटी के चेयरमैन से दिल्ली में मिला। उधर कम्युनिस्ट नेता वृंदा करात ने निफ्ट छात्रों के आंदोलन का मुद्दा संसद में उठाया। निवर्तमान निदेशक डॉ एमके बनर्जी की वापसी की मांग को लेकर छात्रों का आंदोलन छठे दिन भी जारी रहा। विरोध में छात्रों ने सच्चाई और ईमानदारी की प्रतीकात्मक शव यात्रा निकाल कर दिखाया कि किस तरह पॉलिटिक्स के चलते ईमानदारी का अंत हो जाता है। कार्यकारी निदेशक वीके सिन्हा ने विद्यार्थियों से कहा कि आंदोलन के लिए उन्हें प्रताड़ित नहीं किया जायेगा। छात्रों पर जो भी आरोप लगाया गया, उसे वापस लिया जायेगा। पर छात्रों ने कहा कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाती तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। निफ्ट प्रबंधन के रजिस्टार बीबी सिंह ने कहा है कि निवर्तमान निदेशक केंद्र सरकार और बोर्ड ऑफ गवर्नस से भी अपने आप को ऊपर समझते थे। पिछले 10 महीनों से बोर्ड की मीटिंग नही करायी जबकि हर तीन महीने पर मीटिंग करायी जानी चाहिए। बनर्जी को चार नोटिस भी दी गयी। उसके बाद उन्हें हटाने की प्रक्रिया शुरू की गयी। प्रावधानों के तहत बनर्जी को हटाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दिल्ली पहुंची निफ्ट छात्रों की आवाज