class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैप्टन चैतन्य की हिरासत अवघि 15 दिन और बढ़ाई गई

महिला सेना अधिकारी कैप्टन मेघा राजदान की पिछले वर्ष रहस्यमय परिस्थितियों में मौत के मामले में यहां की एक अदालत ने मंगलवार को उनके पति कैप्टन चैतन्य भाटवाडकर की न्यायिक हिरासत अवधि 15 दिन के लिए और बढ़ा दी। गंगयाल पुलिस ने कैप्टन चैतन्य को अदालत में पेश किया था और अदालत से उसकी रिमांड अवधि बढ़ाने का अनुरोध किया था। पुलिस में दर्ज मामले के अनुसार कैप्टन मेघा का शव पिछले वर्ष जुलाई में उनके कुंजवानी सैन्य आवास पर लटकता पाया था। पुलिस ने कैप्टन चैतन्य के खिलाफ 306 और 4ए के तहत मामला दर्ज करके उसे गिरफतार कर लिया था। महिला अधिकारी के घर से एक आत्महत्या नोट भी मिला था जिसमें यह आरोप लगाया गया था कि वरिष्ठ अधिकारियों की प्रताड़ना के चलते उन्हें यह कदम उठाना पड़ रहा है। इससे एक नया विवाद पैदा हो गया था कि क्या सेना में महिलाआें का शोषण हो रहा है। कैप्टन मेघा और उनके पति 113 वीं इंजीनियरिंग रेजीमेंट में तैनात थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कैप्टन चैतन्य की हिरासत अवघि 15 दिन और बढ़ाई गई