class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत कचचा विजय अभियान जारी

खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे भारत ने महिला एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में मेजबान श्रीलंका को तीस रन से हरा दिया। कप्तान मिताली राज (54) और पी राय (44) की शानदार पारियों के बाद भारतीय महिला टीम की गेंदबाजों ने जीत में विशेष प्रदर्शन किया। श्रीलंका के खिलाफ कप्तान मिताली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत ने निर्धारित पचास ओवर में आठ विकेट खोकर 227 रन बनाए। जवाब में श्रीलंका की पूरी टीम पचासवें ओवर में 1रन पर सिमट गई। भारत की तरफ से आर धर ने 28 रन देकर तीन जबकि पुजारे सीमा ने 41 रन देकर तीन विकेट झटके। इससे पहले मिताली का पहले बल्लेबाजी करना का फैसला सफल भी रहा। ओपनिंग भारतीय जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी कर डाली। ओपनर के जैन (2और जया शर्मा (27) ने संभलकर खेलते हुए भारत को मजबूत शुरुआत दी लेकिन इसी योग पर जैन आउट हो गई। इसके पांच रन बाद शर्मा भी चलते बनी। इसके बाद कप्तान मिताली ने मोर्चा संभाला और बांग्लादेश के खिलाफ किए गए अपने प्रदर्शन को दोहराते हुए तेजी से रन बनाने शुरू कर दिए। उन्होंने राय के साथ चौथे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की। मिताली ने 63 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके की मदद से 54 रन बनाए। मिताली कुमारहमी की शिकार बनी। कप्तान के आउट होने के बाद भी धर ने भारतीय स्कोर को धीमा नहीं पड़ने दिया और एम कामिनी के साथ पांचवें विकेट के लिए तेजी से तीस रन जोड़ डाले। धर ने आउट होने से पहले 67 गेंदों का सामना किया और चार चौके की मदद से 44 रन बनाए। 10 के योग पर कामिनी के रूप में भारत का पांचवां विकेट गिरा इसके 1रन बाद ही धर भी आउट हो गई।ड्ढr धर के आउट होते ही भारतीय पारी लडख़ड़ा गई और पचास ओवर में 227 रन ही बना सकी। श्रीलंका की तरफ से एच श्रीवर्धने ने 54 रन देकर तीन जबकि एस पी डी अल्विस ने 36 रन देकर तीन विकेट झटके। हालांकि जीत के लिए 228 के लक्ष्य का पीछा करते उतरी श्रीलंका की टीम के लिए यह स्कोर भी भारी पड़ गया। भारतीय गेंदबाजों के कहर के सामने उसके बल्लेबाज टिक नहीं सके और 1रन के स्कोर पर ही सिमट गए। श्रीलंका की तरफ से एल डी सिल्वा ने 87 गेंदों में 12 चौके और एक छक्का की मदद से सर्वाधिक 74 रन बनाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारत कचचा विजय अभियान जारी