class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चोरी के आरोप में दलित को मार डाला

रविवार की देर रात गोरौल थाने के मलिकापुर गांव में आक्रोशित ग्रामीणों ने एक चोर को बिजली के खंभे में बांध कर बेहरमी से पिटाई कर अधमरा कर दिया जिसकी मौत सदर अस्पताल आने के क्रम में हो गई। घटना के विरोध में अनुसूचित जाति के लोगों और लोजपा कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया। मृतक पप्पू पासवान (30) मलिकपुरा गांव के विशुन पासवान का पुत्र था। पुलिस अधीक्षक पारसनाथ ने बताया कि मृतक पेशेवर चोर था। इसके पूर्व दो बार चोरी के मामले में उसके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज हुई थी जिसमें एक बार वह जेल भी जा चुका था।ड्ढr ड्ढr गोरौल के थानाध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि मृतक के भाई कालेश्वर पासवान के बयान पर पूर्व के दुश्मनी के कारण पीट-पीट कर हत्या करने का आरोप लगाते हुए मलिकपुरा गांव के दस लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस सूत्रों के अनुसार प्राथमिकी में सज्जन महतो, गणेश सिंह, दीपन सिंह, विपिन सिंह, रमेश सिंह, युगुल सिंह, कमल सिंह, विलास सिंह, नथुनी सिंह और रामानंद सिंह को अभियुक्त बनाया गया है।ड्ढr ड्ढr पुलिस ने रामानंद सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। श्री सिंह मलिकपुरा गांव स्थित डाकघर का डाकपाल बताया गया है। उधर ग्रामीणों का आरोप है कि रात में चार लोग डीाल पंप सेट चुरा कर ले जा रहे थे। भनक लगते ही ग्रामीणों ने चोर-चोर हल्ला किया। तीन चोर भाग निकले जबकि पप्पू ग्रामीणों से घिरने के बाद पिस्तौल निकाल गोली मारने की धमकी देने लगा। आक्रोशित ग्रामीणों ने उसे घेर लिया और पास में ही गड़े एक पोल में बांध कर पिटाई की तथा पुलिस को घटना की सूचना दी। पुलिस ने घटनास्थल से एक पिस्तौल भी बरामद किया। थानाध्यक्ष ने बताया कि घायलावस्था में उसे गोरौल अस्पताल में भर्ती किया गया जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे सदर अस्पताल हाजीपुर रफर कर दिया। अस्पताल जाने के क्रम में ही उसकी मौत हो गई। लोजपा नेत्री अंजनी सिन्हा के नेतृत्व में सैकड़ों दलितों व लोजपा कार्यकर्ताओं ने एनएच 77 को जाम कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चोरी के आरोप में दलित को मार डाला