class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैट्रिक-इंटरमीडिएट में छात्र नहीं होंगे फेल

झारखंड एकेडेमिक के नवनिर्मित भवन का उद्घाटन मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष आलमगीर आलम ने किया। उन्होंने कहा कि कौंसिल ने परीक्षा और रिाल्ट समय पर देकर रिकार्ड बनाया है। पूर देश में इस मामले में झारखंड अब तक अव्वल रहा है। शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि इंटरमीडिएट, मध्यमा और मदरसा की परीक्षा भी प्रखंड स्तर पर ली जायेगी। 1ी अवधि में फेल हुए परीक्षार्थियों को एक मौका दिया जायेगा। जून के पहले सप्ताह में परीक्षा लेने की तैयारी चल रही है। सीबीएसइ की तर्ज पर ग्रेडिंग प्रणाली लागू होगी। इससे अब बच्चे फेल नहीं होंगे। रांची-दुमका में शिक्षा भवन बनेगा। शिक्षकों की कमी जुलाई तक दूर कर ली जायेगी। स्वास्थ्य मंत्री भानू प्रताप शाही ने कहा कि आम लोगों का सहयोग मिला, तो झारखंड की तकदीर जरूर बदल जायेगी। इस मौके पर विधायक कड़िया मुंडा, अन्नपूर्णा देवी, रवींद्रनाथ महतो, चंद्रेश उरांव समेत अन्य सदस्यों को सम्मानित किया गया। स्वागत अध्यक्ष डॉ शालीग्राम यादव ने किया। समारोह का संचालन राजश्री जयंती, धन्यवाद ज्ञापन पोलिकार्प तिर्की ने किया। स्थायी होंगे कर्मचारी संवाददाता रांची शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि एकेडमिक कौंसिल के लिए 312 पद सृजित किये गये हैं। स्वीकृति का प्रस्ताव कैबिनेट की अगली बैठक में रखा जायेगा। स्वीकृति के बाद पहले से कार्यरत कर्मचारियों को स्थायी किया जायेगा। एसी ऑडिटोरियम झारखंड एकेडेमिक कौंसिल का भवन पांच सौ सीटोंवाला वातानुकूलित ऑडिटोरियम आकर्षक है। कौंसिल कार्यालय मुख्य सड़क से जुड़ गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैट्रिक-इंटरमीडिएट में छात्र नहीं होंगे फेल