class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जगदीशपुर में लाठीचार्ज, छह जख्मी

बीपीएल सूची में नाम दर्ज कराने उमड़ी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने जहां जगदीशपुर अनुमंडल मुख्यालय पर जमकर लाठियां बरसाई वहीं बिहिया में हंगामें के बाद प्रखंडकर्मी कार्यालय में ताला जड़कर भाग निकले। जगदीशपुर में पुलिस की बरसाई गई लाठियों से आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए हैं। पुलिस लाठी चार्ज में शाहपुर के सहाौली निवासी उमेश यादव की स्थिति गंभीर बनी हुई है।ड्ढr ड्ढr घटना की सूचना मिलने के बाद आरा से जगदीशपुर पहुंचे सदर एसडीओ प्रमोद कुमार ने आक्रोशित लोगों को समझा-बुझा कर शांत कराया। सूत्रों के अनुसार अनुमंडल के शाहपुर-बिहिया और जगदीशपुर प्रखंड के 444 गांवों के वैसे लोग अनुमंडल मुख्यालय पर जुटे थे जिनके नाम बीपीएल सूची में दर्ज नहीं हुए थे। मंगलवार को आवेदन जमा करने अंतिम तिथि निर्धारित की गई थी। हाारों की जुटी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठियां बरसानी पड़ी। बिहिया के भड़सरा निवासी रामशब्द सिंह के अनुसार सूची बनाने में पूरा का पूरा मुहल्ला और टोला छोड़ दिया गया था। इसी को लेकर नाम दर्ज कराने के लिए काफी संख्या में लोग जूटे थे। राजद नेता भाई दिने पुलिस लाठी चार्ज के विरोध में मशाल जुलूस निकाला।ड्ढr ड्ढr वहीं बिहिया के बीपीएल सूची में नाम दर्ज हेतु आवेदन जमा करने के लिए मंगलवार को उमड़ी लोगों की भारी भीड़ ने बिहिया स्थित प्रखंड कार्यालय में जमकर शोरगुल और हंगामा मचाया। भीड़ के बढ़ते भारी दबाव के कारण प्रखंड कार्यालय में अफरा-तफरी मची रही तथा प्रखंड कर्मी कार्यालय बंद कर भाग निकले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जगदीशपुर में लाठीचार्ज, छह जख्मी