class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यौन शोषण केस में महिला विधायक पर जांच पूरी

अपने ही अंगरक्षक का यौन शोषण करने के आरोपों का सामना कर रही कांग्रेसी विधायक सुनीता देवी के राजनीतिक भाग्य का फैसला अब अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की दो सदस्यीय जांच दल की रिपोर्ट पर टिका हुआ है। पूर्व अंगरक्षक बाल योगेश्वर शर्मा उर्फ लाली द्वारा उन पर लगाये गये कथित यौन-शोषण के आरोपों की जांच कर एआईसीसी की टीम गुरूवार को वापस दिल्ली लौट गई।ड्ढr ड्ढr जांच टीम अपनी रिपोर्ट जल्द ही एआईसीसी को सौंपेगी। मालूम हो कि कोढ़ा की विधायक सुनीता देवी पर यौन शोषण का आरोप लगने के बाद एआईसीसी ने इस मामले की जांच की जिम्मेवारी राष्ट्रीय महिला कांग्रेस की महासचिव शिखा कपूर और महजबी खान को सौंपी थी। इस दल ने 5 मई से मामले की जांच शुरू की। इस दौरान टीम ने पटना, कटिहार और कोढ़ा का दौरा कर मामले से जुड़े सभी लोगों से बातचीत की। शिखा कपूर ने बताया कि उन्होंने अपना काम पूरा कर लिया है। जो तथ्य सामने आए हैं उनके आधार पर वह अपनी रिपोर्ट महिला कांग्रेस की बिहार प्रदेश प्रभारी मोहसिना किदवई और राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभा ठाकुर को सौंपेगी। उन्होंने कहा कि अंगरक्षक द्वारा इन आरोपों के मद्देनजर जिन पत्रों, फोटो, चिकित्सीय जांच पर्ची और बातचीत के टेप को आधार बनाया गया है, विशेषज्ञों द्वारा उनकी सत्यता की जांच की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यौन शोषण केस में महिला विधायक पर जांच पूरी