class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राचयपाल बच्चे की तरह व्यवहार कर रहे हैं : बसु

पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री और माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के वयोवृद्ध नेता योति बसु ने राजभवन में दो घंटे बिजली बन्द रखने के रायपाल गोपाल कृष्ण गांधी के फैसले को शुक्रवार को बचकाना करार दिया। बसु ने माकपा सचिवालय में पार्टी की बैठक के बाद पत्रकारों से कहा रायपाल बच्चों की तरह बर्ताव कर रहे हैं। राय में बिजली की स्थिति की जानकारी के लिए वह बिजली मंत्री को बुलाकर बात कर सकते थे लेकिन रायपाल जो कर रहे हैं, वह एक तरह से राय सरकार के विरोध जैसा है। गौरतलब है कि राय में बिजली की मांग यादा है लेकिन बाकरेश्वर बिजली संयंत्र में तकनीकी खामी के कारण बिजली की कटौती (लोड शेडिंग) बढ़ गई है। आम जनता को हो रही दिक्कतों को समझते हुए रायपाल ने राजभवन में दो घंटे बिजली बंद रखने के निर्देश दिए हैं। बसु ने उनके इस कदम का इस आधार पर भी विरोध किया है कि आगामी पंचायती राज चुनावों में विपक्षी पार्टियां बिजली संकट को मुद्दा बना रही हैं और रायपाल के इस फैसले से ऐसा प्रतीत होता है मानो वह विपक्षी दलों का समर्थन कर रहे हैं। रायपाल के इस कदम से खिसियाए बसु ने बचाव की मुद्रा में उन्हीं पर सवाल दाग दिया, मैं इसे खुले तौर पर कह रहा हूं कि यदि श्री गांधी राय के लोगों के लिए वाकई कुछ अच्छा करना चाहते हैं तो उन्हें बिजली मंत्री को बुलाकर अच्छी सलाह देनी चाहिए थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राचयपाल बच्चे की तरह व्यवहार कर रहे हैं: बसु