class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपनी टीम से खुश नहीं हैं माल्या

तालिका में सबसे नीचे चल रहे बेंगलुरु रॉयल चैलेंजर्स के मालिक विजय माल्या ने कहा है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 20-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं। माल्या ने एक निजी समाचार चैनल से कहा कि उनके दिमाग में जो खिलाड़ी थे उन्हें टीम के कप्तान राहुल द्रविड़ और मुख्य कार्यकारी अधिकारी चारू शर्मा ने नजरंदाज कर दिया। उन्होंने कहा कि खिलाडियों की मेरी अपनी सूची थी। दूसरी आेर द्रविड़ और शर्मा ने अपनी फेहरिस्त बना रखी थी। मैंने आखिर में अपनी सूची पर जोर नहीं देने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि मैं अपनी पसंद के खिलाड़ियों पर बोली लगाना चाहता था मगर इन दोनों ने मुझे रोक लिया। अब इसका नतीजा सबके सामने है। बेंगलुरु रॉयल चैलेंजर्स को 20-20 की वर्दी में टेस्ट टीम बता कर उसका मजाक उड़ाया जा रहा है। शराब व्यवसाय से जुड़े माल्या ने कहा कि दूसरी नीलामी में द्रविड़ मौजूद नहीं थे। लेकिन शर्मा ने मुझे अपनी पसंद के खिलाड़ियों पर बोली लगाने से रोके रखा। उन्होंने कहा कि मिस्बा उल हक को तो मुझे किसी भी कीमत पर लेना ही था। लेकिन अपनी पसंद के बाकी खिलाड़ियों पर बोली लगाने से शर्मा मुझे रोकते रहे। गौरतलब है कि माल्या ने शर्मा को हटा कर पूर्व टेस्ट खिलाड़ी ब्रजेश पटेल को अपनी टीम का मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया है। इस बारे में माल्या ने कहा कि मुझे लगा कि शर्मा को क्रिकेट की समझ है और इसीलिए उन्हें मुख्य कार्यकारी अधिकारी बनाया गया। लेकिन वह टीम के लिए कुछ खास करने में कामयाब नहीं हो सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अपनी टीम से खुश नहीं हैं माल्या