class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार ने दी भृगु के बेटे को क्लर्क की नौकरी

सरकार ने वित्त विभाग के कर्मचारियों की मांगों को लेकर आत्मदाह करनेवाले विभाग के कर्मी भृगु पांडेय के बेटे अविनाश को क्लर्क की नौकरी दी है। डिप्टी सीएम स्टीफन मरांडी ने सोमवार को अविनाश को नियुक्ित पत्र सौंपा। उसे दिनचर्या लिपिक बनाया गया है। नियुक्ित पत्र लेते समय अविनाश काफी इमोशनल हो गया। गौरतलब है कि चतुर्थवर्गीय कर्मचारी भृगु ने अपने कैडर के लिए चार हाार रुपये के एसीपी के वेतनमान की मांग को लेकर 7 मार्च को प्रोजेक्ट भवन में आत्मदाह कर लिया था। बाद में 1मार्च को सफदरांग अस्पताल में उनकी मौत हो गयी थी। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार ने भृगु की विधवा को औपबंधिक पेंशन देना शुरू कर दिया है और मुआवजे की राशि में बढ़ोतरी करने पर भी विचार किया जा रहा है। साथ ही सरकार पीड़ित की बेटी की शादी के लिए भी मदद करगी। वित्त सचिव राजबाला वर्मा ने कहा कि अविनाश अभी बीए पार्ट वन में है और वह आगे भी अपनी पढ़ाई जारी रखे, ऐसी कोशिश रहेगी। साथ ही सरकार भृगु के परिवार को बड़ा क्वॉर्टर देगी। स्व पांडेय ने घर बनाने और मोटर साइकिल के लिए अग्रिम पैसे लिए थे। सरकार ने अग्रिम के सूद के रूप में उस पर बकाये हाार रुपये माफ कर दिए हैं। बेटी की शादी के लिए एक माह का वेतन देंगे कर्मचारी सोमवार को झारखंड सचिवालय चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों की बैठक में स्व भृगुनाथ की प्रतिमा लगाने तथा उनकी बेटी की शादी में सहायता के लिए स्वास्थ्य मंत्री भानू प्रताप शाही से मिलने का निर्णय लिया गया है। इस शादी के लिए कर्मचारियों ने एक माह का वेतन देने का भी निर्णय लिया। संघ के जवाहर झा ने एक माह का वेतन 3650 रुपये संघ के खाते में जमा किया। संघ का चुनाव दो माह के भीतर कराने, भृगु की मांगों को मजबूती से रखने तथा संघ के कार्यालय भवन के लिए भवन सचिव से मिलने का भी निर्णय लिया गया। बैठक में संघ के अतीश झा, राजेश्वर चौधरी, सुरंद्र यादव, दिनियामीन कुाूर, लाल बाबू, प्रवीण कुमार व भीम बहादुर सहित कई कर्मचारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार ने दी भृगु के बेटे को क्लर्क की नौकरी