class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिपाही निकला माओवादी

पटना पुलिस ने मंगलवार को भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर दीनानाथ राम उर्फ दीना को दबोच लिया। दीना वर्षो से होमगार्ड के सिपाही के रूप में कार्यरत था। मंगलवार को वह अपना टर्म वेरीफिकेशन कराने पुलिस लाइन आया था जहां उसके पीछे लगे फुलवारीशरीफ के डीएसपी दिलनवाज अहमद ने उसे दबोच लिया। पुलिस ने जब उसकी पूरी छानबीन की तो यह जानकर अवाक रह गई कि होमगार्ड के सिपाही के रूप में उसकी ड्यूटी पटना के कई महत्वपूर्ण स्थानों और इमारतों में भी लगाई जा चुकी है।ड्ढr ड्ढr वरीय आरक्षी अधीक्षक अमित कुमार ने बताया कि दीना का होम गार्ड का टर्म पूरा हो चुका था। वह आगे काम करने के लिए ही वेरीफिकेशन कराने आया था। नौबतपुर थाना अंतर्गत कररिया दरियापुर निवासी दीना पर नौबतपुर थाने में हत्या रंगदारी, हथिायरों का प्रदर्शन सहित लगभग एक दर्जन संज्ञेय मामले दर्ज है। यह इस थाना क्षेत्र के भूषणचक गांव में रहकर नक्सली गतिविधियों का संचालन करता था। इसपर वर्ष 1में जीतवाहन शर्मा (भूषणचक), 1में राजेश्वर गरड़िया (बहुआ) 2000 में परमेश्वर पासवान (दरियापुर) 2002 में जमादार सहजानंद शर्मा एवं उसका भतीजा धनंजय शर्मा (भूषणचक), 2003 में योगेन्द्र यादव (दरियापुर), गोबरहवा (करड़िया) सोनाचक के एक बेलदार तथा गोढ़ना के एक हवलदार की हत्या के मामले दर्ज हैं। वर्ष 2001 में इसे गिरफ्तार भी किया गया था पर कोर्ट ले जाते समय यह परसा (नौबतपुर) गांव के समीप हथकड़ी सहित फरार हो गया। इतनी हत्याओं का आरोपी यह माओवादी होमगार्ड में अबतक कैसे बना था यह जांच का विषय है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सिपाही निकला माओवादी