class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैंसर रोगियों को ‘पेन क्लीनिक’ एक सप्ताह में

आईजीआईएमएस में कैंसर के लाइलाज मरीजों को दर्द से निजात के लिए ‘पेन क्लीनिक’ की ओपीडी सेवाएं एक सप्ताह में आरम्भ की जाएगी। क्लीनिक में लाइलाज हो चुके मरीजों को सप्ताह में तीन दिन ओपीडी सेवाएं दी जाएंगी। इस दिशा में बिहार में इंडियन एसोसिएशन ऑफ पैलिएटिव केयर (आईएपीए) की राज्य शाखा का विधिवत गठन किया गया।ड्ढr संस्थान में पेन क्लीनिक सेवाओं की जानकारी देते हुए कार्यकारी निदेशक डा.अरुणकुमार ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया कि पेन क्लीनिक में चार बिस्तरों का वार्ड बनाया जाएगा।ड्ढr ड्ढr संस्थान में ‘हास्पीस’ बनाने पर विचार किया जा रहा है। वहां पर न सिर्फ मरीजों की शारीरिक पीड़ा दूर की जाएगी बल्कि मरीज के साथ परिजनों की काउंसलिंग भी होगी। हॉस्पीस में प्रवचन, ध्यान और योग की व्यवस्था होगी। पूर्व में बन्द की गयी क्लीनिक को फिर चालू किया जाएगा। संस्थान में हाई इनर्जी लिनीयर एक्सलेरटर की स्थापना पब्लिक-प्राइवेट क्षेत्र में स्थापित की जाएगी।कैंसर विभागाध्यक्ष डा.राजीव रंजन प्रसाद ने बताया कि संस्थान में हर वर्ष 25 हजार मरीज इलाज कराने आते हैं। ‘पेन एवं पैलिएटिव केयर’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आईएपीए के राष्ट्रीय सचिव डा.ए.के.दाम ने बताय कि कैंसर के अंतिम स्टेज के 80 फीसदी मरीजों के इलाज से अधिक देखरख की आवश्यकता है। इस मौके पर आईएपीए की राज्य शाखा के गठन की घोषणा की गयी। डा.अखिलेश प्रसाद सिन्हा को संरक्षक बनाया गया। कार्यक्रम का संचालन डा.मनीष मंडल ने किया । इस मौके पर पूर्व निदेशक डा.ए.के.सिंह, डा.डी.के.यादव सहित दर्जनों चिकित्सक और कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का आयोजन संस्थान के निश्चेतना और कैंसर विभाग द्वारा किया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कैंसर रोगियों को ‘पेन क्लीनिक’ एक सप्ताह में