class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीड़िता के परिजनों के निशाने पर दिल्ली पुलिस

पीड़िता के परिजनों के निशाने पर दिल्ली पुलिस

दिल्ली गैंगरेप कांड की भेंट चढ़ी पीड़िता के परिजनों ने इस मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा अदालत में दाखिल आरोपपत्र में कथित रूप से हत्या की धारा नहीं जोड़ने पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि अगर पुलिस की ऐसी ही नीयत और हरकतें रहीं तो उनकी बेटी को कभी इंसाफ नहीं मिल पाएगा।

पीड़ित लड़की के भाई ने कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा अदालत में दाखिल आरोपपत्र में हत्या की धारा नहीं जोड़े जाने की खबर अगर सच है तो यह बहुत गलत और आपत्तिजनक है। यह इतने संवेदनशील मामले पर पुलिस की घोर लापरवाही को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस का इस तरह का लापरवाही भरा रवैया रहा तो उनकी दिवंगत बहन तथा परिवार को न्याय नहीं मिल पाएगा।

लड़की के भाई ने कहा कि उनका परिवार दिल्ली पुलिस की कथित चूक के खिलाफ कानून के जानकारों से विचार-विमर्श करके आगे की कार्रवाई करेगा। गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने शनिवार को अदालत में स्वीकार किया था कि गैंगरेप के बाद हत्या मामले में वह आरोपियों के खिलाफ हत्या के गम्भीर आरोप का जिक्र करना भूल गयी। उसने इसे टाइपिंग की गलती होने का दावा किया था।

लड़की के भाई ने अपनी बहन के मित्र के उस बयान को सही करार दिया है जिसमें कहा गया है कि दरिंदगी की शिकार हुई उस लड़की ने बलात्कारियों को जलाकर मार डालने की बात कही थी। उन्होंने मीडिया से अपील की कि वह उनकी निजता के अधिकार का सम्मान करें।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीड़िता के परिजनों के निशाने पर दिल्ली पुलिस