class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिकी सदन में पारित सिखों पर हमले के खिलाफ प्रस्ताव

अमेरिकी सदन में पारित सिखों पर हमले के खिलाफ प्रस्ताव

सिखों पर हमलों के खिलाफ एक निन्दा प्रस्ताव अमेरिका के इलिनोइस सदन में पारित कर दिया गया। यह प्रस्ताव मुख्यत: गत अगस्त में विस्कोंसिन गुरुद्वारे में हुई गोलीबारी की घटना से संबंधित था। इस घटना में छह सिख मारे गए थे।

अमेरिका के प्रति अमेरिकी सिख समुदाय की व्यापक प्रतिबद्धता को मान्यता देते हुए इस प्रस्ताव में कहा गया है कि विस्कोंसिन नरसंहार और नस्ली भावना से प्रेरित अन्य हमलों ने सिखों और अन्य समुदायों को चिंतित कर दिया है।

इस प्रस्ताव में घृणा से भरी हिंसा की निन्दा करते हुए प्रवासी एवं अल्पसंख्यक समुदायों की भागीदारी और नागरिकों के बीच मेलजोल को प्रोत्साहन दिया गया है। इसमें आम जनता के बीच सिखों और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के बारे में ज्यादा जागरूकता लाने पर जोर दिया गया है।

यूनाइटेड सिख्स की मध्य पश्चिम क्षेत्र की संयोजक एकता अर्नेजा ने कहा कि यह प्रस्ताव नस्ली भावनाओं से प्रेरित अत्याचारों से जुड़ा है। यह इलिनोइस राज्य की ओर से इलिनोइस के लोगों को अमेरिकी सिखों और दक्षिण एशियाई मूल के अमेरिकियों के बारे में ज्यादा शिक्षित करने की प्रतिबद्धता व्यक्त करता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिकी सदन: सिखों पर हमले के खिलाफ निन्दा प्रस्ताव पारित