class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हथियारों के साथ 7 अपहर्ता गिरफ्तार

नालंदा पुलिस को उस समय बड़ी कामयाबी मिली जब लहेरी थाना क्षेत्र के मणिराम अखाड़ा के पास अपहरण की योजना बनाते सात अपराधियों को धर दबोचा गया। गिरफ्तार लोगों के पास से तीन देसी कट्टे, चार मोबाइल व कई जीवित कारतूस बरामद किये गये हैं। गिरफ्तार लोगों में शेखपुरा जिला पुलिस का एक जवान भी शामिल है। जो अपहरण व मूर्ति तस्कर गिरोह का मास्टरमाइंड बताया जाता है।ड्ढr ड्ढr एसपी ने बताया कि गिरफ्तार लोग मूर्ति तस्करी का धंधा भी करते थे। झारखंड के सिमडेगा से मूर्ति तस्करी की योजना बनाकर बोलेरो से वे लोग नालंदा आये थे। मणिराम अखाड़ा के पास अस्थावां थाना क्षेत्र से एक व्यक्ित की अपहरण करने की योजना बना रहे थे। गिरफ्तार लोगों में मानपुर थाना क्षेत्र के परोहा निवासी रविशंकर महतो, बिन्द के मीराचक निवासी चन्द्रचूर दिवाकर व अरविन्द कुमार, शेखपुरा के रवीन्द्र महतो, छबिल्लापुर के बढ़ौना निवासी रौशन कुमार, नालंदा थाना क्षेत्र के साधु महतो, खगड़िया जिले के रहिमपुर निवासी सुनील कुमार सिंह शामिल हैं। अंतरप्रांतीय अपहर्ता गिरोह का सरगना धरायाड्ढr सासाराम (नि.प्र.)। उग्रवाद प्रभावित नौहट्टा थाना क्षेत्र के दारा नगर में बैठ कर गिरोह का संचालन कर रहे अंतरप्रांतीय अपहर्ता गिरोह के सरगना उमाशंकर सिंह को उसके एक महिला व दो पुरूष साथियों के साथ रोहतास पुलिस ने मंगलवार की रात गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से इटली की बनी दो पिस्टल, दो कंट्री मेड पिस्टल व भारी मात्रा में कारतूस बरामद किए गए हैं। इसकी जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अपने साथियों के साथ गिरफ्तार अपहर्ता गिरोह का सरगना आरा (भोजपुर) का निवासी है, जो बिहार में भोजपुर, बक्सर, पटना के अलावे झारखंड में अपहरण व फिरौती की घटनाओं को अंजाम देता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हथियारों के साथ 7 अपहर्ता गिरफ्तार