class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेहरानगढ़ हादसे के बाद सादगी से मनी ईद

राजस्थान में जोधपुर के मेहरानगढ़ किले स्थित चामुण्डा माता मंदिर में मंगलवार को हुए दुखद हादसे के गमगीन माहौल में शहर के मुस्लिमों भाईयों के दुखी चेहरों पर ईद की खुशी नजर आई। इस दुखान्तिका के कारण मुस्लिम समाज ने इस बार लोगों से ईद उल फितर का पर्व सादगीपूर्वक मनाने की अपील की थी और इसी कारण ईद की पूर्व संध्या पर बाजारों में जमकर होने वाली खरीददारी का उत्साह भी बाजारों से गायब था। मुसलमानों ने बुधवार को आवश्यक घरेलू सामान की ही खरीददारी की। शहर खतीव पेश इमाम काजी मोहम्मद अय्यूब अंसारी के अनुसार गुरुवार सुबह सवा नौ बजे शहर के जालोरी गेट स्थित ईदगाह में ईद की मुख्य नमाज शांतिपूर्वक अदा की गई और इसके बाद देश की खुशहाली एवं मेहरानगढ़ दुखान्तिका में 224 मृतकों के परिजनों एवं रिश्तेदारों को यह सदमा सहन करने की दुआएं मांगी गई तथा अल्लाह से मृतकों की आत्माआें को जन्नत नसीब करने की दुआ की गई। इसी के साथ शहर के अन्य मस्जिदों एवं ईदगाहों पर भी ईद की नमाज अदा कर यही दुआएं मांगी। जिला प्रशासन एवं पुलिस ने इस अवसर पर शहर में यातायात की विशेष व्यवस्था की आेर नमाज अदा करने के समय मस्जिदों एवं ईदगाह को जाने वाले रास्तों पर यातायात की व्यवस्था इस प्रकार की है कि नमाजियों को कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। पुलिस सूत्रों के अनुसार शहर में अधिकांश मजिस्दों एवं ईदगाहों पर नमाज का कार्यक्रम शांतिपूर्ण रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मेहरानगढ़ हादसे के बाद सादगी से मनी ईद