class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अजय कटारा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में

नीतीश कटारा हत्याकांड के मुख्य गवाह अजय कटारा को एक नाबालिग लड़की के अपहरण और बलात्कार के कुप्रयास के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार करने के बाद अदालत में पेश किया गया। अदालत ने अजय को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। कटारा की जमानत याचिका पर 17 अक्टूबर को सुनवाई होगी। राजनीतिज्ञ डीपी यादव के पुत्र विकास यादव एवं करीबी रिश्तेदार विशाल यादव को नीतीश कटारा हत्याकांड में दोषी सिद्ध कराने में अजय की गवाही अहम रही थी। नीतीश भारतीय प्रशासनिक सेवा के एक वरिष्ठ अधिकारी के पुत्र थे और 16 फरवरी 2002 को गाजियाबाद के विवाह समारोह में हिस्सा लेने के बाद उनका अपहरण हो गया था। बाद में उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर से नीतीश का अधजला शव बरामद हुआ था। इस वर्ष जुलाई में अजय ने गाजियाबाद के पटेल नगर में खुद पर हमला होने की सूचना पुलिस को दी थी। उनका कहना था कि ये उन पर किया गया चौथा हमला था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अजय कटारा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में