Image Loading
बुधवार, 22 फरवरी, 2017 | 18:50 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • गाजियाबाद: भोजपुर एनकाउंटर केस में 4 आरोपी पुलिसवालों को आजीवन कारावास की सजा
  • लीबिया में ISIS के चंगुल से डॉक्टर समेत 6 भारतीयों को छुड़ाया गया, गोली लगने से...
  • शेयर बाजारः 94 अंकों की तेजी के साथ सेंसेक्स 28,856 पर, निफ्टी ने भी लगाई 26 अंकों की...
  • आज के हिन्दुस्तान में पढ़ें टेलीविजन पत्रकार अनंत विजय का विशेष लेखः परंपरा के...
  • यूपी चुनावः सीएम अखिलेश की बहराइच में रैली आज, जानें कौन दिग्गज कहां करेंगे...
  • सुबह खाली पेट खाएं अंकुरित चना, बीमारियां नहीं आएंगी पास, पढ़ें ये 7 टिप्स
  • आज का हिन्दुस्तान अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें।
  • राशिफलः कर्क राशिवालों की नौकरी में स्थान परिवर्तन के योग, आय में वृद्धि होगी,...
  • Good Morning: माल्या और टाइगर मेमन को भारत लाने की संभावना बढ़ी, अमर सिंह बोले-...

सामने आने वाला है यासिर अराफात की मौत का राज

रामल्लाह, एजेंसी First Published:27-11-2012 11:38:28 AMLast Updated:27-11-2012 11:43:05 AM
सामने आने वाला है यासिर अराफात की मौत का राज

फिलीस्तीनी इंजीनियरों ने मरहूम नेता यासिर अराफात की कब्र खोदी है, ताकि उनके अवशेष से जहर की जांच के नमूने लिए जा सकें। इस मौके पर स्विट्जरलैंड, फ्रांस और रूस के जांचकर्ताओं एवं विशेषज्ञों के अतिरिक्त अराफात की मौत की जांच कर रही फिलीस्तीनी समिति के प्रमुख तौफीक तिरावी भी मौजूद थे।

सूत्रों के अनुसार, अराफात के शव के अवशेष अब भी कब्र में हैं। कब्र से निकाले जाने के बाद इन्हें पास के ही मस्जिद में ले जाया जाएगा। इस प्रक्रिया को गोपनीय रखने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

अराफात की कब्र से उनके अवशेष इसलिए लिए जा रहे हैं, ताकि यह पता लगाया जा सके कि 11 नवंबर, 2004 को फ्रांस के एक अस्पताल में उनकी मौत किस कारण से हुई थी? कहीं यह जहर की वजह से तो नहीं हुई थी? फिलीस्तीनियों को संदेह है कि इजरायल ने उन्हें जहर दिया था।

इस साल की शुरुआत में स्विट्जरलैंड के विशेषज्ञों ने अराफात के निजी समानों, जैसे-अंडरवियर और टूथब्रश की जांच की थी, जिस पर रेडियोएक्टिव पदार्थ पोलोनियम-210 पाए गए थे।

अराफात की पत्नी सुहा ने याचिका दायर कर फ्रांस के अस्पताल से अपने पति की मौत की जांच कराने की मांग की थी।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड