Image Loading
मंगलवार, 21 फरवरी, 2017 | 08:21 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में विमान हादसा, कई लोगों के मरने की खबरः AFP
  • आज का भविष्यफल: सिंह राशि वालों को जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा, पूरी खबर पढ़ने के...
  • हेल्थ टिप्स: डायबिटीज में सुबह खाली पेट चबाएं लीची के पत्ते, नहीं पड़ेगी दवा की...
  • आज के हिन्दुस्तान का ई-पेपर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • GOOD MORNING: यूपी में आज चौथे चरण का चुनाव प्रचार होगा खत्म, कुरैशी की मदद करने वाले Ex CBI...

जीपीएस एप्लीकेशन लाएगा सड़क दुर्घटनाओं में कमी

तेल अविव, एजेंसी First Published:05-01-2013 08:52:38 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

'वेज' जैसी जीपीएस ट्रैफिक एप्लीकेशन के जरिए सबसे अधिक दुर्घटना वाले स्थानों पर पुलिस की उचित तैनाती कर सड़क दुर्घटनाओं को कम किया जा सकता है। यह जानकारी हाल ही में हुए एक अध्ययन से मिली है।

वेज लोकेशन डाटा को रिकार्ड करता है और उपयोगकर्ताओं को यातायात, दुर्घटनाओं और पुलिस उपस्थिति सहित अन्य तरह की जानकारी अपलोड और उस पर टिप्पणी करने की आजादी देता है।

वेज वेबसाइट का कहना है कि दुनिया भर में उसके लगभग तीन करोड़ उपयोगकर्ता हैं। वेबसाइट ने स्वयं का वर्णन एकसमुदाय आधारित ट्रैफिक और नेविगेशन एप्लीकेशन के रूप में किया है, जिसके उपयोगकर्ता वास्तविक समय पर यातायात और सड़क की जानकारी साझा कर समय और इंधन की बचत कर सकते हैं।

अध्ययन का नेतृत्व करने वाले बेन-गुरियन यूनिवर्सिटी ऑफ नेगेव (बीजीयू) के पीएचडी के छात्र माइकल फायर ने बताया, ''केवल अब हम दैनिक रूप से बड़ी मात्रा में एकत्र डाटा की क्षमता की खोज की शुरुआत कर रहे हैं।''

विश्वविद्यालय के बयान के अनुसार, ''यातायात दुर्घटनाओं जैसी घटनाओं की समय से निगरानी करने सम्बंधी यह अध्ययन पुलिस को वास्तविक समय पर सड़क के खतरे वाले स्थानों की पहचान और उसके विकल्पों का पता लगाने में मदद प्रदान करेगा।''

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title:
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड