Image Loading आकाशगंगा में हैं 100 अरब ग्रह... - LiveHindustan.com
मंगलवार, 03 मई, 2016 | 23:44 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • आईपीएल 9: दिल्ली डेयरडेविल्स ने गुजरात लायंस को आठ विकेट से हराया।
  • आईपीएल 9: गुजरात लायंस ने दिल्ली डेयरडेविल्स के सामने 150 रन का लक्ष्य रखा
  • माल्या का त्यागपत्र प्रक्रिया के अनुरूप नहीं, इस पर वास्तविक हस्ताक्षर नहीं:...
  • राज्यसभा अध्यक्ष हामिद अंसारी ने प्रक्रियागत आधार पर विजय माल्या का इस्तीफा...
  • आईपीएल 9: दिल्ली डेयरडेविल्स ने गुजरात लायंस के खिलाफ टॉस जीता, पहले फील्डिंग का...
  • आगस्ता घूसकांड पर सोनिया गांधी के घर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बैठक: टीवी...
  • नीट मामलाः सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों के इस साल अलग परीक्षा कराने की इजाजत पर...

आकाशगंगा में हैं 100 अरब ग्रह...

वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:04-01-2013 02:59:09 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
आकाशगंगा में हैं 100 अरब ग्रह...

एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि आकाशगंगा में कम से कम 100 अरब ग्रह हैं। इस अध्ययन पर भरोसा किया जाए, तो हर तारे के लिए कम से कम एक ग्रह है और ज्यादातर ग्रहों में जीवन की संभावना हो सकती है।

पूर्व की धारणा से उलट, नए अध्ययन में खगोलविदों ने कहा है कि ग्रहों के साथ-साथ तारा प्रणालियां पूरे ब्रहमांड में फैली हैं। नासा का कहना है कि कैलिफोर्निया इन्स्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी के खगोलविदों ने केपलर 32 नामक तारे की कक्षा में मौजूद ग्रहों तथा हमारी आकाशगंगा के ग्रहों का प्रतिनिधित्व करने वाली प्रणालियों के अध्ययन के दौरान यह निष्कर्ष निकाला।

केलटेक में खगोलविज्ञान के सहायक प्राध्यापक जॉन जॉन्सन इस अध्ययन के सह लेखक भी हैं। उन्होंने कहा कि हमारी आकाशगंगा में कम से कम 100 अरब ग्रह मौजूद हैं। यह चौंकाने वाली बात है। ग्रह व्यवस्था का पता नासा के केपलर स्पेस टेलिस्कोप की मदद से लगाया गया था और इस व्यवस्था में पांच ग्रह होते हैं।

केपलर 32 की कक्षा में मौजूद दो ग्रहों की खोज अन्य खगोलविद पूर्व में कर चुके हैं। केलटेक की टीम ने शेष तीन ग्रहों की पुष्टि की और फिर पांच ग्रहों की प्रणाली का विश्लेषण कर इसकी तुलना केपलर द्वारा खोजी गई अन्य प्रणालियों से की।

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
 
 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट