Image Loading
मंगलवार, 31 मई, 2016 | 13:21 | IST
 |  Image Loading
ब्रेकिंग
  • जानिए कैसे बिना इंटरनेट के चला सकेंगे WHATSAPP। क्लिक करें
  • तालिबान ने उत्तरी अफगानिस्तान में किया 16 बस यात्रियों को कत्ल

बलात्कार की सजा 30 साल कैद हो: युवती के पिता

बलिया, एजेंसी First Published:07-01-2013 05:01:46 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

दिल्ली सामूहिक बलात्कार कांड की शिकार हुई लड़की के पिता ने किसी भी अभियुक्त को सरकारी गवाह बनाये जाने का विरोध करते हुए कहा है कि बलात्कार के आरोप में 14 साल के लडकों को भी वयस्क माना जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि बलात्कार की सजा को सात साल की कैद से बढ़ाकर 30 साल कर दिया जाना चाहिये।

लड़की के पिता ने यहां कहा कि बलात्कार के मामलों में 14 साल के आरोपी को भी वयस्क माना जाना चाहिये, क्योंकि दुराचार के ज्यादातर मामलों में 14 वर्ष के लड़के भी शामिल पाये जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि बलात्कार किसी लड़की की नैतिक रूप से हत्या करने जैसा अपराध है, लिहाजा इसकी सजा को सात साल से बढ़ाकर 30 वर्ष किया जाना चाहिये।

उन्होंने अपनी बेटी के साथ हुई दरिंदगी के दो आरोपियों को सरकारी गवाह बनाने की बात पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अभियुक्त फांसी की सजा से बचने के लिये यह हथकंडा अपना रहे हैं।

उन्होंने ने कहा कि उनकी बेटी के गुनहगार खुद को मौत की सजा से बचाने के लिये सरकारी गवाह बनने की पेशकश कर रहे हैं। साथ ही वे जनता की सहानुभूति हासिल करने के वास्ते कह रहे हैं कि वे आत्महत्या कर लेंगे।

 
 
 
 
 
अन्य खबरें
 
देखिये जरूर
जरूर पढ़ें
Bihar Board Result 2016
Assembely Election Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
क्रिकेट
IPL-9 गावस्कर ने चहल को सर्वश्रेष्ठ युवा प्रतिभा चुनाIPL-9 गावस्कर ने चहल को सर्वश्रेष्ठ युवा प्रतिभा चुना
पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने युवा लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को हाल में समाप्त हुई आईपीएल नौ में से सर्वश्रेष्ठ युवा प्रतिभा के रूप में चुनते हुए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के इस खिलाड़ी को प्रतिभा और संयम के मामले में सर्वश्रेष्ठ करार किया।